- डॉक्टरों की अपील, रक्तदाता ब्लड बैंक में आकर करें रक्तदान

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। पिछले रविवार से जनता कर्फ्यू के चलते शहर के ब्लड बैंकों में खून की कमी हो गई है। हालत यह है कि हमीदिया अस्पताल के ब्लड बैंक में सिर्फ 40 यूनिट ब्लड (पैक आरबीसी) बचा है, जबकि यहां हमेशा 150 यूनिट ब्लड उपलब्ध रहता है। थैलासीमिया के मरीजों को भी ब्लड नहीं मिल रहा है। यहां सिर्फ बदले में ही ब्लड दिया जा रहा है। कर्फ्यू के चलते कैंप नहीं लग रहे हैं। इसके अलावा लोग खुद ब्लड बैंक पहुंचकर रक्तदान नहीं कर पा रहे हैं। इस कारण यह दिक्कत आ रही है।

हमीदिया अस्पताल के ब्लड बैंक ऑफिसर डॉ. यूएम शर्मा ने बताया कि हमेशा ब्लड बैंक में करीब 150 यूनिट आरबीसी (खून का तत्व जो हीमोग्लोबिन बनाता है) उपलब्ध रहता था। 17 मार्च के बाद से कोई कैंप नहीं लगा है। इस कारण खून की कमी हो गई है। उन्होंने रक्तदाताओं से अपील की है वह अकेले-अकेले आकर रक्तदान करें, जिससे भीड़ भी नहीं होगी और जरूरतमंद को ब्लड भी उपलब्ध हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कई बीमारियों में खून की जीवन भर जरूरत पड़ती है। ब्लड उपलब्ध नहीं होने पर उन्हें भी परेशानी हो रही है। आरबीसी की लाइफ 35 दिन की होती है। ऐसे में अगर कर्फ्यू के दौरान रक्तदान नहीं हुआ तो आगे दिक्कत और बढ़ जाएगी।

--------------

- जेपी अस्पताल में सिर्फ 30 यूनिट ब्लड बचा

जेपी अस्पताल के ब्लड बैंक ऑफिसर डॉ. एचएल भूरिया ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण के डर के चलते रक्तदान नहीं कराया जा रहा है। अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए ही रक्तदान की व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि अभी तो जरूरत कम है, लेकिन मांग बढ़ने पर मुश्किल होगी।

---------------

- रेडक्रास अस्पताल में भी बढ़ी किल्लत

शिवाजी नगर स्थित रेडक्रास अस्पताल में भी ब्लड का स्टाक कम हो गया है। यहां बी पॉजिटिव 24, ओ पॉजिटिव 63 यूनिट आरबीसी उपलब्ध है। यहां निगेटिव ग्रुप का पूरा ब्लड या तत्व में से कुछ भी नहीं है। राज्य रेडक्रास सोसायटी के चेयरमैन आशुतोष पुरोहित ने लोगों से अपील की है कि ब्लड बैंक आकर रक्तदान करें। उन्होंने कहा कि कोई आना चाहता है तो वह एंबुलेंस भी भेज सकते हैं। रक्तदाता फोन नंबर 0755-2550346 पर संपर्क कर सकते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket