भोपाल(नवदुनिया प्रतिनिधि)।

कोरोना बढ़ने का असर देवउठनी एकादशी पर शहर में हुए शादी-समारोह में देखने को मिला। बुधवार को लालघाटी, सीहोर नाका, एयरपोर्ट रोड, कोलार, भेल सहित अन्य स्थानों पर स्थित मैरिज गार्डनों में शादी-समारोह हुए। करीब 400 से अधिक शादी-समारोह में प्रवेश से पहले मैरिज गार्डन प्रबंधन ने मेहमानों के हाथों को सैनिटाइज करा कर व मास्क लगाकर ही समारोह में जाने दिया। शादियों में प्रवेश पहले थर्मल स्क्रीनिंग से शरीर का तापमान मापा गया। इसके बाद ही प्रवेश दिया गया। होशंगाबाद रोड स्थित एक मैरिज गार्डन के संचालक एमएस सोनी ने बताया कि शादी-समारोह में कोरोना में बचाव के लिए विशेष प्रबंधन किए गए। गार्डनों के प्रवेश द्वार पर आम सूचना के बोर्ड लगाए गए। जिसमें शादियों में आने वाले मेहमानों से हाथों को सैनिटाइज करने, मास्क लगाने और सुरक्षित शारीरिक दूरी बनाने का आग्रह किया गया। वहीं लालघाटी चौराहे से संत हिरदाराम नगर रोड पर स्थित आधा दर्जन मैरिज गार्डनों के बाहर एक गार्डों को बैठाया गया। मेहमानों की संख्या नोट की गई। सैनिटाइज की बोतल रखी गईं। आने-जाने वाले लोगों के हाथों को सैनिटाइज किया गया। शरीर का तापमान मापा गया। कोरोना बचाव के पूरे इंतजाम किए गए। बता दें कि मैरिज गार्डन आनर्स एसोसिएशन ने कोरोना से बचाव के लिए प्रशासन की दिशा-निर्देशों का पालन किया। इधर पुराने शहर के नवीन नगर निवासी अभिषेक शर्मा ने बताया कि कोरोना के कारण भाई की शादी में होने वाले अलग-अलग कार्यक्रमों में अलग-अलग लोगों को आमंत्रित किया है। 30 नवंबर को शादी है। कोरोना के कारण भोज का आयोजन निरस्त कर दिया है। सिर्फ बारात में 20 से 22 लोग ले जाने की व्यवस्था की है।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस