भोपाल/मंडीदीप, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी के समीप औद्योगिक नगरी मंडीदीप में स्‍थित गेल कंपनी में अचानक गैस रिसाव होने से इलाके में अफरातफरी का माहौल हो गया और लोगों में भगदड़ मच गई। घटना गुरुवार-शुक्रवार दरमियानी रात की है। गैस रिसाव से दहशत के चलते कार्पोरेट कम्पनी को अपना प्लांट बंद करना पड़ा। जबकि पास ही स्‍थित सिविल अस्पताल में मौजूद मरीजों में बैचेनी देखी गई, आधा दर्जन लोग उपचार के लिए आरोग्य अस्पताल भी पहुंचे। गनीमत रही कि गैस रिसाव से कोई जनहानि नही हुई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार शुक्रवार की रात गेल गैस कंपनी से गैस का रिसाव होने पर अफरातफरी मच गई। मौके पर पहुची पुलिस ने घटना से अधिकारियों को अवगत कराया। कंपनी के सुरक्षाकर्मियो ने पानी में कैमिकल मिला कर आसपास छिड़काव किया। इस दौरान गैस रिसाव की अफवाह पूरे नगर में फैल गई। सतलापुर (मंडीदीप) के सामाजिक कार्यकर्ता राकेश लौवंशी ने तत्परता दिखाते हुए घटना से अवगत कराया।

औधोगिक थाना प्रभारी विजय त्रिपाठी ने बताया की गेल गैस के प्लांट से रिसाव हुआ। मौके पर कुछ ही देर में पुलिस पहुंच गई थी। पानी में लिक्विड मिलाकर छिड़काव करने से गैस का असर कम हो गया था। इस बारे में गैल कम्पनी के स्थानीय अधिकारी के आदेश पर कम्पनी के सुरक्षा कर्मियो ने रिसाव पर काबू पा लिया। इस बीच दो से तीन घंटे तक लोग दहशत के साये में रहे।

पीएनजी का प्लांट हुआ बंद

गेल के सामने पीएनजी कंपनी के कर्मचारियों ने दुर्गंध के चलते काम बंद कर दिया था। बताते हैं कि पूरी रात पीएनजी का प्लांट बंद रहा। दूसरी ओर साइड में सिविल अस्पताल है। वहां भर्ती मरीज व परिजनो सहित अस्पताल के कर्मचारीयो में दहशत फैली हुई थी। शुक्रवार को गेल कम्पनी और पीएनजी अधिकारियों की बंद कमरे में एक घंटे तक बैठक के बाद दोनों कंपनी के जिम्मेदारों के सुर बदल गए।

हेल्थ सेफ्टी और पीसीबी के जिम्‍मेदारों को पता ही नही

गैस रिसाव की बात पूरे शहर में फैल गई, लेकिन हेल्थ सेफ्टी और प्रदूषण नियंत्रण मंडल के जवाबदारों को मालूम ही नहीं है। औद्योगिक नगर में गैस रिसाव की घटना हो गई। दोनों विभागों के जवाबदारों से इस बारे में जानकारी चाही गई तो दोनों ने इस सम्बंध में जानकारी होने से इंकार करते हुए कहा कि आपसे हमें यह जानकारी मिल रही है।

अस्पताल में उपचार के लिए रात्रि में छह लोग आए थे।

- डा. अभिजीत पाटिल, संचालक, आरोग्य अस्पताल

हमारे प्लांट में ऐसी कोई घटना ही नही हुई ओडोरेंट का उपयोग किया दुर्गंध के लिए किया जाता है

- प्रतीक कांबले, प्रबंधक, गैल गैस लिमिटेड, मंडीदीप

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close