भोपाल। पाकिस्तान से लौटी गीता की अपने असली परिवार को लेकर खोज आखिरकार पूरी हो गई, उसे उसका परिवार महाराष्ट्र के परभणी में मिला है। आज भोपाल में जीआरपी ने गीता उसकी मां और बड़ी बहन को लेकर एक प्रेस कांन्फ्रेंस की और बताया कि महाराष्ट्र में 2021 में उसका परिवार मिल गया था। लेकिन कोरोना के कारण उस समय सामने नहीं लाया गया। गीता मुंबई की एक संस्था के साथ भोपाल पहुंची थी। उनके साथ इंदौर की उस संस्था के पदाधिकारी भी है जहां गीता रही थी। News Updating

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close