Gehu Kharidi in MP भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी मंगलवार (26 मई) को खत्म नहीं होगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल, इंदौर और उज्जैन संभाग में कोरोना संक्रमण के कारण विलंब से शुरू हुई खरीदी और तुलाई न होने पाने के कारण इसकी अवधि 31 मई करने का निर्णय किया है। किसानों के नाम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को दिए संदेश में कहा कि उन किसानों को चिंतित होने की जरूरत नहीं है, जो गेहूं नहीं बेच पाए हैं। 31 मई तक खरीदी की जाएगी। किसानों को एसएमएस भी भेजे जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की मेहनत के बदौलत बंपर उत्पादन और खरीद हुई है। अब तक 15 लाख से ज्यादा किसानों से 115 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है। यह स्थिति तब है जब प्रदेश में निजी मंडियां खोली गईं और ई-ट्रेडिंग का विकल्प भी उपलब्‍ध। कराया गया। जिन स्थानों पर खरीदी का काम बाकी है, वहां 31 मई तक गेहूं खरीदा जाएगा। किसानों को एसएमएस भेजकर गेहूं बेचने के लिए खरीदी केंद्र पर बुलाया जाएगा। किसान मास्क लगाकर केंद्रों पर पहुंचे और दो गज की दूरी का पालन भी करें।

खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जिन जिलों और समितियों में खरीदी की अवधि बढ़ाई जानी है, उसका आकलन किया जा रहा है। वहीं प्लास्टिक बैग खरीदने के आदेश दे दिए हैं। जिन जिलों में खरीद का काम पूरा हो गया है, वहां से बाकी बचे बोरे दूसरी जगह उपलब्‍ध कराए जा रहे हैं। कलेक्टरों को भी निर्देश दिए हैं कि वे आंतरिक प्रबंधन पर काम करें। जिन समितियों में बोरे बचे हुए हैं, उन्हें दूसरी समितियों को उपलब्‍ध कराएं।

खराब ट्रांसफार्मर बिना अधिभार बदले जाएंगे

मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार किसानों के साथ है और लगातार महत्वपूर्ण फैसले भी कर रही है। किसानों के लिए बिजली के बिल जमा कराने की तारीख भी बिना किसी अधिभार के 31 मई कर दी गई है। खेती के काम में आने वाले ट्रांसफार्मर जल जाने या खराब होने पर बिना कोई अधिभार लिए बदले जाएंगे। वर्ष 2019-20 की बीमा राशि के भुगतान का निर्णय भी लिया गया है।

इससे किसानों को चार हजार करोड़ रुपये से अधिक की फसल बीमा राशि किसानों को मिल सकेगी। 15 लाख किसानों को पिछले साल का दो हजार 990 करोड़ रुपये का फसल बीमा दिलाया जा चुका है। 68 लाख 13 हजार किसानों को एक हजार 362 करोड़ रुपये की राशि प्रधानमंत्री किसान योजना में उपलब्‍ध कराई गई है। शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर दिए गए कर्ज की अदायगी की अंतिम समय सीमा भी 31 मई कर दी है। इसके लिए सरकार ने 55 करोड़ रुपये का वित्तीय भार उठाया है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना