भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

फसलों के सर्वे कार्य का स्वयं औचक निरीक्षण करें एवं पटवारी के कामकाज पर नजर रखें। भारी बारिश एवं वायरस तथा कीट प्रकोप से सोयाबीन की फसलों में हुए नुकसान का सर्वेक्षण का कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने सभी एसडीएम एवं तहसीलदारों को यह निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी पटवारियों को यह हिदायत दी जाए कि वे वास्तविक नुकसान का आंकलन करें। जितना नुकसान हुआ है उतना ही सर्वे में दिखाया जाए। प्रत्येक किसान के यहां हुए नुकसान का अलग अलग आंकलन करते हुए सर्वे रिपोर्ट प्रस्तुत करें, जिससे कि किसानों को राहत की राशि तत्काल दी जाए। कलेक्टर ने सर्वेक्षण कार्य की समीक्षा करते हुए कहा कि सर्वे कार्य में लगे ग्राम पंचायत सचिव, पटवारी एवं कृषि अधिकारी आगामी तीन-चार दिनों में सर्वे कार्य पूर्ण कर लें। सर्वे का कार्य पारदर्शिता के साथ होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिले के विभिन्ना क्षेत्रों में फसलों को हुए नुकसान की ऑडिट रिपोर्ट तैयार कर शीघ्र ही जमा कराएं। उन्होंने सभी एसडीएम और तहसीलदारों को निर्देशित किया है कि फसलों की भरपाई और आपदा से हुये नुकसान की रिपोर्ट शीध्र तैयार करें, सर्वेक्षण के दौरान पारदर्शिता बरती जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020