भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। भेल क्षेत्र में पिपलानी में अयप्पा और खजुरीकला में श्रीकृष्ण मंदिर से तीन करोड़ का भक्तों द्वारा चढ़ाया गया सोना गायब होने की शिकायत गोविंदपुरा पुलिस को की गई है। दोनों ही मंदिर मलयाली समाज के हैं। मंदिर कमेटी के सदस्यो ने अध्यक्ष एसए पिल्लई पर आरोप लगाते हुए उन्हें इसके लिए जिम्मेदार बताया है। सदस्यों का आरोप है कि अध्यक्ष से जब दोनों मंदिरों में चढ़ाए गए सोने-चांदी का हिसाब मांगा तो उन्होने बैलेंस सीट पर निल दिखा दिया। वहीं अध्यक्ष एसए पिल्लई का कहना है कि मंदिर अच्छे से चल रहे हैं। उनको बदनाम करने की साजिश हो रही है।

मंदिर समिति और अध्यक्ष आमने सामने

राजधानी में मलयाली समाज का अय्यप्पा मंदिर पिपलानी में स्थित है और गुरुवायुर कृष्ण मंदिर खजूरी कला में स्थित है। यह दोनों मंदिर के अध्यक्ष एक ही है । वह 23 साल से अय्यप्पा मंदिर में अध्यक्ष बने हुए हैं साथ ही पिछले 13 साल से खजूरी कला कृष्ण मंदिर गुरुवायुर में भी अध्यक्ष हैं। सदस्यों का कहना है कि दोनों ही जगह सोसाइटी के नियमों को ताक में रखकर बिना चुनाव के खुद को अध्यक्ष घोषित कर दिया जाता है ।

मलयाली समाज में सोना दान करने का है रिवाज

मलयाली समाज में त्योहार में नकदी के साथ-साथ सोना भी दान करने की परम्परा है। कोई भी त्योहार आता है तो मलयाली समाज के लोग मंदिर में सोना चांदी जरूर दान करते हैं लेकिन मंदिर की बैलेंस सीट की मानें तो अभी तक सोना चढ़ा ही नहीं है।

इनका कहना है

आज तक इस स्वयंभू अध्यक्ष ने मंदिर में दान दिए हुए सोने का कभी भी हिसाब लोगों को नहीं बताया। अगर हम कम से कम भी समझे तो दोनों मंदिर में 8-9 किलो सोना दोनों मंदिर में होना चाहिए । लेकिन दोनों मंदिरों की बैलेंस शीट में इसको कहीं भी दर्शाया नहीं गया। सतीश अरोरा, मंदिर समिति के सदस्य

मंदिर समिति के 99 प्रतिशत लोग मुझें पसंद करते है इसलिए अध्यक्ष बना देते है ये लोग चुनाव हार गए हैं इसलिए बदनाम कर रहे हैं। मंदिर में कभी इतनी कमाई आई ही नहीं कि करोड़ों की बात की जाय। कृष्ण मंदिर मे तो रोजाना 30 से 40 रुपए आते हैं । अयप्पा मंदिर में भी कम ही चढ़ावा चढ़ताा है। एसए पिल्लई अध्यक्ष अयप्पा मंदिर और श्रीकृष्ण मंदिर

अयप्पा्‌ मंदिर और श्रीकृष्ण मंदिर दोनों मंदिर के अध्यक्ष के खिलाफ सोना हेराफेरी की शिकायत मिली है। उसकी जांच के लिए टीआई को शिकायत दी है। अब इसकी जांच के बाद पूरे मामले का खुलासा होगा कि सदस्य जो आरोप लगा रहे हैं उनमें कितनी सच्चाई है। अंकित जायसवाल, गोविंदपुरा सीएसपी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020