उच्च शिक्षा मंत्री ने कुलपतियों और रजिस्ट्रार की ली बैठक

भोपाल नवदुनिया प्रतिनिधि।

विश्वविद्यालयों में आर्थिक अनियमितता न हो इसलिए विश्वविद्यालयों का

ऑडिट होगा। यह निर्देश उधा शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने बैठक में दिए।

मंत्री ने शुक्रवार को प्रदेश के शासकीय विश्वविद्यालयों के

कुलपतियों एवं रजिस्ट्रार से विभिन्न मुदें पर चर्चा की। उन्होंने

कहा कि विश्वविद्यालयों में किसी भी विचारधारा को बढ़ावा देने के लिए

प्रोत्साहित न करें। शिक्षा का पहला उद्देश्य बच्चों को एक परिपक्व इंसान

बनाना है, जिससे वे कल्पनाशील और वैचारिक रूप से स्वतंत्र बन सकें। उन्होंने

कहा कि हर विश्वविद्यालय में महात्मा गांधी पीठ की स्थापना होगी। बैठक

में विश्वविद्यालय में नैक ग्रेडिंग की तैयारी, ई-प्रवेश प्रक्रिया से

सभी संबद्घ शासकीय-अशासकीय महाविद्यालयों के सत्यापन,

विद्यार्थियों की समस्याओं एवं लोकपाल स्तर पर निराकृत एवं लंबित प्रकरणों पर चर्चा की गई।

--

उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रोफेसर्स होंगे सम्मानित

मंत्री ने कहा कि प्रदेश में जल्द ही नॉलेज कमीशन का गठन किया

जाएगा। कमीशन के माध्यम से विद्यार्थियों के लिए कम्प्यूटर, व्यक्तित्व

विकास, अंग्रेजी भाषा आदि की विशेष तैयारी एवं प्रशिक्षणों की व्यवस्था

की जाएगी, ताकि वे उद्योग-व्यापार जगत की मांग के अनुसार स्वयं को तैयार

कर सकें। उन्होंने कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रोफेसर्स एवं

कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जाएगा। साथ ही बारहवीं कक्षा में 90

प्रतिशत से ज्यादा अंक लाने वाले बच्चों को भी उधा शिक्षा विभाग

सम्मानित करेगा।

---