Habibganj Railway Station : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। यात्रियों को हबीबगंज रेलवे स्टेशन में विश्व स्तरीय सुविधा के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। यह इंतजार छह महीने से लेकर एक साल तक का होगा। ऐसा इसलिए कहना पड़ रहा है, क्योंकि मजदूर लौट आए तो छह महीने में हबीबगंज स्टेशन वर्ल्ड क्लास सुविधा वाला स्टेशन बन जाएगा। यदि मजदूर कम मिले तो इस काम को पूरा करने में एक साल का समय लग जाएगा। ऐसी स्थिति में मार्च 2021 तक काम पूरा होगा। हालांकि, 90 फीसद काम हो चुका है। लॉकडाउन के बाद एयर कॉन्कोर का काम चालू कर दिया गया है। प्लेटफार्म-5 की तरफ कॉन्कोर के काम को पूरा करने के लिए गर्डर रखे जा रहे हैं। एस्केलेटर व ट्रैवलेटर मंगा लिए हैं। इन्हें लगाने का काम चालू किया जाएगा।

हबीबगंज स्टेशन को दिसंबर 2018 में वर्ल्ड क्लास के रूप में विकसित करना था। यह बात रेलवे बोर्ड के तत्कालीन चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने कही थी। फिर टेंडर की शर्तों के अनुरूप जुलाई 2019, फिर दिसंबर 2019 में काम पूरा होना था। तब भी काम पूरा नहीं हुआ तो चौथी डेडलाइन मार्च 2020 तय की थी, इसके पहले कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी और काम ही बंद करना पड़ा था। अब फिर काम चालू हुआ है, लेकिन 10 फीसद मजदूर ही मिले हैं, इसलिए काम पूरा करने में दिक्कतें आ रही हैं। इस तरह यात्रियों को वर्ल्ड क्लास स्टेशन के लिए छह महीने से लेकर एक साल तक इंतजार करना पड़ेगा।

इन अधूरे कामों में लगेगा समय

- प्लेटफार्म-1 की तरफ 36 मीटर ऊंची बिल्डिंग का काम बाकी है। इसे पूरा करने में कम से कम छह से आठ महीने लग सकते हैं।

- सबसे बड़ा तो एयर कॉन्कोर का काम बाकी है। सबसे ज्यादा समय इसी काम को पूरा करने में लगेगा।

- एस्केलेटर व ट्रैवलेटर लगाना अभी बाकी है। कुछ प्लेटफार्मों पर लगा दिए गए हैं।

- प्लेटफार्मों पर फिनिशिंग का काम बाकी है। दोनों तरफ पार्किंग को व्यवस्थित करना है।

- प्लेटफार्म-5 की तरफ नई बिल्डिंग निर्माणाधीन है, उसमें भी समय लगेगा।

ये काम पूरे हुए

- प्लेटफार्मों पर शेड लग गए हैं। दोनों सब-वे का काम पूरा हो चुका है।

- सब-वे के लिए बनाए रैंप के आसपास रेलिंग लग चुकी है।

- यात्री सूचना तंत्र के लिए आधुनिक एलईडी स्क्रीन लगा दी गई हैं, इन्हें चालू भी कर दिया है।

- प्लेटफार्मा पर फ्लोरिंग का काम लगभग पूरा हो गया है।

- स्टेशन परिसर में यात्री सुविधा के लिए जो स्ट्रक्चर बनने थे, ऐसे सभी स्ट्रक्चर का काम लगभग पूरा हो गया है।

काम चालू कर दिया है, लेकिन मजदूर नहीं मिल रहे हैं। केवल 10 फीसद मजदूर ही मिले हैं, इसलिए समय लगेगा। मजदूरों की संख्या बढ़ाने का प्रयास करेंगे। पूरे काम के दौरान शारीरिक दूरी का पालन करेंगे, ताकि कोरोना संक्रमण को जगह न मिले। -अबु आशिफ, प्रोजेक्ट मैनेजर बंसल पाथ-वे हबीबगंज प्राइवेट लिमिटेड

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags