Hanuman Jayanti 2020 : ऋषि पाण्डेय, भोपाल। कोरोना महामारी के बीच संकट मोचन हनुमान जी की जयंती पर पूरा देश जहां उनके चरणों में नत मस्तक है, वहीं राजनेता भी संकट के इस काल में अपने आराध्य से कोरोना से मुक्ति के लिए गुहार लगा रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से लगाकर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ, दिग्विजय सिंह, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर ने हनुमान जयंती पर उनका स्मरण करते हुए संदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट में 'नासै रोग, हरै सब पीरा, जपत निरंतर हनुमत बीरा' का उल्लेख करते हुए यह संदेश दिया है कि निरंतर हनुमान जी का स्मरण करने से सारे रोग और पीड़ा खत्म हो जाती हैं।

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में हनुमान जी से प्रार्थना की है कि 'प्रभु मुझे शक्ति दीजिए कि सबके जीवन में मंगल के दीप प्रज्ज्वलित कर सकूं। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने एक वीडियो संदेश में प्रदेश वासियों से आग्रह किया कि वे अपने-अपने घरों में रह कर हनुमान चालीसा का पाठ करें। कमल नाथ ने कहा कि हनुमान जी के ध्यान से सारे संकट व दुख दूर हो जाते हैं। इस महामारी के संकट में हम सब घर पर बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें, जिससे कोरोना महामारी का संकट जल्द खत्म हो सके।

गौरतलब है कि कमल नाथ बहुत बड़े हनुमान भक्त है। अपने निर्वाचन क्षेत्र छिंदवाडा में उन्होंने 101 फीट उंची हनुमान प्रतिमा स्थापित की है। इसके अलावा उन्होंने 30 जनवरी को भोपाल के मिंटो हाल में हनुमान चालीसा के सवा करोड पाठ का आयोजन कर खुद के हनुमान भक्त होने का प्रमाण दिया था। अक्सर अपने विवादास्पद बयानों को लेकर लोगों के निशाने पर रहने वाले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी हनुमान जयंती पर ट्वीट किया कि 'जय बजरंग बली, तोड़ कोरोना की नली।' केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती समेत अनेक नेताओं ने हनुमान जयंती पर संकट मोचन का स्मरण किया है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना