भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

भोपाल गैस त्रासदी के समय अफवाहों को मात देकर पीड़ितों को अस्पताल पहुंचाने वाले कई लोग अब कोरोना वायरस के खतरे के बीच जरूरत मंदों को दवा और भोजन उपलब्ध करवा रहे हैं। भोपाल शहर में ऐसे कई लोग काम कर रहे हैं। इन्हीं में से दवा व्यवसायी ललित कुमार जैन, पूर्व महापौर आलोक शर्मा, जगदीश चंद्र नेमा (चांद) और कमलेश जैमनी जैसे लोग हैं। ये खुद तो मदद कर ही रहे हैं, दूसरों को भी प्रेरित कर रहे हैं। जैमिनी का कहना है कि कोरोना छूने से फैलता है, इसलिए एक-दूसरे से शारीरिक दूरी बनाकर जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। सब कुछ प्रशासन के भरोसे छोड़ना ठीक नहीं होगा, क्योंकि प्रशासन में भी अधिकारी, कर्मचारियों के रूप में इंसान ही काम कर रहे हैं यदि वे भी कोरोना वायरस से डरने लगे तो इस महामारी से निपट नहीं पाएंगे। बता दें कि गैस त्रासदी में 15 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं। जबकि 5 लाख से अधिक पीड़ित हैं।

-------

गैस पीड़ितों को दवा उपलब्ध कराई थी, अब कोरोना पीड़ितों को करवा रहे

गैस त्रासदी की सुबह से पीड़ितों को दवा पहुंचाने का काम शुरू कर दिया था। यहां तक की खाने-पीने की व्यवस्था कराई थी। हजारों पीड़ितों को आंखों की दवाइयां दिलवाईं। जिन्हें दिखाई नहीं दे रहा था उनकी आंखों में दवाइयां डलवाईं। अब कोरोना से निपटने के लिए दिन-रात लगे हुए हैं। कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। शहर के सभी दवा व्यवसायी डटकर खड़े हैं। जितना बन रहा है, लोगों को दवाइयों के साथ-साथ सलाह दे रहे हैं। कुछ भी हो जाए, मुश्किल के समय में खड़े हैं, खड़े रहेंगे। सुरक्षित दूरी बनाकर, सुरक्षित तरीके से सभी को मदद करना ही होगा।

- ललित कुमार जैन, दवा व्यवसायी, भोपाल

---------------

आज रोज 3 हजार लोगों को भोजन करवा रहा हूं

गैस त्रासदी ने रोंगटे खड़े कर दिए थे। बदहवास लोगों का ढेर था। हर कोई चिंतित था। इसी में मेरा परिवार भी शामिल था। घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं थी, क्योंकि कई तरह की अफवाहें थी, पर मेरा मन नहीं माना। परिचितों के साथ निकला। तब उम्र करीब 18 साल की थी। अस्पतालों से लेकर शमशान घाटों तक गए, जो बन सका मदद की। लाशें उठाईं, अंतिम संस्कार करवाया। आज कोरोना से निपटने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। मां आशापुरा दरबार ट्रस्ट के लोगों की मदद से रोजाना 3 हजार लोगों को भोजन करवा रहे हैं। 500 से 1000 जरूरतमंदों को राशन के पैकेट बांट रहे हैं। इसमें सभी का सहयोग मिल रहा है।

- आलोक शर्मा, पूर्व महापौर, भोपाल

---------------

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना