भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी भोपाल की बैंक शाखाओं में अब जिला अग्रणी बैंक (लीड बैंक) प्रबंधन की टीम औचक निरीक्षण करेगी। इस दौरान बिना मास्क के पाए जाने पर बैंककर्मी एवं ग्राहकों पर जुर्माने की कार्रवाई करेगी। दरअसल, बैंकों में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वर्तमान में एक दर्जन बैंककर्मी संक्रमित होकर अस्पताल में भर्ती हैं, जबकि अब तक 250 से अधिक संक्रमित हो चुके हैं। इसके बावजूद अधिकांश बैंक परिसर में न तो शारीरिक दूरी के नियम का पालन हो रहा है और न ही मास्क पहनने को लेकर सावधानी बरती जा रही है।

भोपाल में 41 निजी एवं शासकीय बैंकों की कुल 516 शाखाएं हैं। वहीं आंचलिक कार्यालय भी यही पर है। यहां सैकड़ों बैंककर्मी कोरोना वायरस की जद में आ चुके हैं। कोरोना संक्रमण के शुरुआती समय में बैंकों में बचाव के सभी उपाय किए गए थे, लेकिन धीरे-धीरे लापरवाही बरती जाने लगी। बैंककर्मी खुद शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं कर पाते हैं, तो बैंकों में लेन-देन के लिए पहुंचने वाले ग्राहकों के बीच भी पर्याप्त शारीरिक दूरी नहीं रहती। इसके अलावा कई बार मास्क पहनने से भी परहेज करते हैं। यही कारण है कि वर्तमान में यूनियन बैंक समेत पांच से अधिक बैंकों की शाखाओं के एक दर्जन बैंककर्मी संक्रमित हैं। ऐसे में वरिष्ठ अधिकारी चिंतित हैं। जिला अग्रणी बैंक प्रबंधन भी बैंकों को पत्र लिखकर बचाव के सारे उपाय करने की समझाइश दे रहा है। इसके बावजूद कई बैंक शाखाओं में लापरवाही का आलम है। लिहाजा, अब अग्रणी बैंक लापरवाह बैंककर्मियों व ग्राहकों पर कड़ी कार्रवाई करने का मन बना रहा है। इसके लिए एक टीम बनाई गई है, जो बैंकों में जाकर औचक निरीक्षण करेगी और कार्रवाई करेगी।

बैंकों में बैंककर्मी या ग्राहक एक-दूसरे से पर्याप्त शारीरिक दूरी का पालन करते हुए नजर नहीं आते हैं या मास्क नहीं पहनते हैं तो टीम उन पर कार्रवाई करेगी। एक हजार रुपये तक का जुर्माना भी हो सकता है।

पूर्व में भी हो चुकी कार्रवाई

अग्रणी बैंक प्रबंधन नवंबर माह में कार्रवाई कर चुका है। एक दर्जन से अधिक बैंककर्मियों पर जुर्माना किया गया था, लेकिन अब बकायदा टीम बैंकों में पहुंचेंगी और बड़े स्तर पर कार्रवाई करेंगी।

बैंकों में औचक निरीक्षण के लिए टीम बनाई गई है, जो शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं करने एवं मास्क नहीं पहनने वालों पर जुर्माने की कार्रवाई करेगी। एटीएम बूथ में सैनिटाइजर की व्यवस्था करने के लिए फिर से बैंक प्रबंधन को कहा गया है। -शैलेंद्र श्रीवास्तव, लीड बैंक मैनेजर भोपाल

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags