Janmashmi 2022 : संत हिरदाराम नगर, नवदुनिया प्रतिनिधि। सुधार सभा ने आज जन्माष्टमी का पावन पर्व बड़े उत्साह, उमंग एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ भगवान श्रीकृष्ण, संतजी, भारत माता एवं सरस्वती जी की मूर्ति पर मार्ल्यापण एवं दीप प्रज्जवलन के साथ किया गया।

शिक्षाविद् विष्णु गेहानी ने आए हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए एवं जन्माष्टमी पर्व के महत्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्म कर्म पर आधारित था, आज के पावन पर्व पर मैं श्रीकृष्ण को नमन करता हूं। गीता में श्रीकृष्ण भगवान ने कहा है कि कर्म करें परंतु फल की इच्छा न करें, क्योंकि कर्म का फल हमें किसी न किसी रुप में अवष्य मिलता है, श्रीकृष्ण और श्रीराम में यही विशेषता थी कि वे कभी नहीं कहते थे कि हम भगवान है। श्रीकृष्ण ने धर्म की रक्षा की और अधर्म का नाश किया। कपड़ा संघ के पूर्व अध्यक्ष वासदेव वाधवानी ने कहा कि भारत एक अध्यात्मक देश है यहां पर हर पर्व को बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। कहा जाता है कि जब-जब धरती पर पाप बढ़ता है तो ईश्वर किसी न किसी रुप में अवतार लेते हैं। आज जो बच्चे कृष्ण भगवान बनें है उन बच्चों में भी भगवान का ही वास है।

कृष्ण स्वरुप में बच्चे बहुत ही सुंदर लग रहे हैं

इस अवसर पर बोरवन क्लब के अध्यक्ष श्री जगदीश आसवानी व शेटी चंदनानी ने कृष्ण कन्हैयालाल के जयकारों के साथ जन्माष्टमी पर्व की हार्दिक बधाईयां देते हुए बताया कि आज बच्चे कृष्ण व राधा के स्वरुप में हैं, बहुत ही सुंदर लग रहे हैं। संस्कार के सचिव बसंत चेलानी ने कहा कि जब-जब अधर्म बढ़ता है, तब कोई न कोई अवतार जन्म लेता है। भूमिका रामरख्यिानी ने सुंदर गीत राधे-राधे रटते जाओ कान्हा को रिझाओ आओ रे थाल सजाओ कान्हा की आरती गाओ प्रस्तुत किया। छात्रा मधु कुशवाह ने अपने विचार रखते हुए कहा कि श्री कृष्ण ने गीता में उपदेश देते हुए कहा कि कर्म करो फल की इच्छा मत रखों श्री कृष्ण का पूरा जीवन कर्म पर आधारित है।

छात्रा अंकिता ने एक सुंदर कविता चारों ओर उत्सव है छाया संग अपने जन्माष्टमी का त्यौहार है आया प्रस्तुत की। बच्चों ने कृष्ण व राधा का स्वरुप धारण कर पूरे वातावरण को वृदांवन धाम बना दिया, ऐसा लग रहा था जैसे श्रीकृष्ण भगवान हमारे समक्ष प्रकट हुए हैं। कृष्ण भगवान की लीलाओं को सांस्कृतिक नृत्य के रुप में देखकर अतिथियों द्वारा बहुत ही सराहा गया, कृष्ण स्वरुप में प्रकट हुए सभी विद्यार्थियों को आए हुए अतिथियों द्वारा गिफ्ट प्रदान किये गये।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close