भोपाल (राज्य ब्यूरो)। मध्य प्रदेश की जोबट विधानसभा के उपचुनाव में हारने के बाद से कांग्रेस के उम्मीदवार महेश पटेल ने आरोप लगाया कि उन्हें अपनों का साथ नहीं मिला। उन क्षेत्रों में भी कांग्रेस को पराजय का सामना करना पड़ा, जो स्थानीय नेताओं के प्रभाव वाले हैं। उनका इशारा भूरिया परिवार की भूमिका की ओर था। नोटा में गए वोटों को लेकर भी उन्होंने सवाल उठाए और कहा कि ये सारे वोट कांग्रेस के थे। वहीं, पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी नितेन्द्र सिंह राठौर ने मतदान केंद्रों पर कब्जा करने की बात रखी। उपचुनाव के परिणामों की समीक्षा सोमवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सह प्रदेश प्रभारी सीपी मित्तल और सुधांशु त्रिपाठी ने की। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भी देर शाम निर्वाचन प्रभारी और प्रत्याशियों से जानकारी ली।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में राष्ट्रीय सचिव सह प्रदेश प्रभारी सीपी मित्तल और सुधांशु त्रिपाठी ने एक के एक करके उपचुनाव के प्रत्याशियों और चुनाव प्रभारियों से चर्चा की। वहीं, कमल नाथ ने आवास पर बैठक की। सूत्रों के मुताबिक इस दौरान महेश पटेल ने कहा कि उन स्थानों पर कांग्रेस हार गई, जहां हमेशा पार्टी जीतती रही है। स्थानीय नेताओं ने भी साथ नहीं दिया। भूरिया परिवार से भी अपेक्षित सहयोग नहीं मिला। मालूम हो कि जोबट विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया के निधन की वजह से हुआ था।

दीपक भूरिया ने चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी पर पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया। उन्होंने निर्दलीय नामांकन पत्र भी दाखिल कर दिया था और मैदान से हटने के लिए तैयार नहीं थे। काफी मान-मनोव्वल के बाद वे माने थे लेकिन चुनाव के दौरान सक्रिय नहीं रहे। उन्होंने पांच हजार 603 वोट नोटा में जाने को लेकर भी सवाल उठाए हैं। वहीं, नितेन्द्र सिंह राठौर ने पुलिस और प्रशासन द्वारा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने और भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा मतदान केंद्रों पर कब्जा करने को हार की मुख्य वजह बताया।

खंडवा संसदीय क्षेत्र से उम्मीदवार रहे राजनारायण सिंह पूरनी ने बड़वाह से पार्टी के विधायक सचिन बिरला के धोखा देने की बात रखी। साथ ही कहा कि हम मिलकर पूरी मजबूती के साथ चुनाव लड़े हैं। उधर, रैगांव विधानसभा क्षेत्र से विजयी प्रत्याशी कल्पना वर्मा ने जीत का श्रेय पार्टी की एकजुटता को दिया। उपचुनाव की रिपोर्ट केंद्रीय संगठन को देंगे।

आज होगी जिला प्रभारियों की बैठक : पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ मंगलवार को जिला प्रभारियों के साथ प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बैठक करेंगे। इस दौरान वे संगठनात्मक गतिविधियों की समीक्षा करेंगे। मंडलम और सेक्टर के गठन की प्रभारियों से रिपोर्ट ली जाएगी और सदस्यता अभियान को गति देने की कार्ययोजना बनाई जाएगी।

Koo App

बीजेपी महासचिव का अहंकार देखिये, कह रहे हैं -मेरी जेब में ब्राह्मण हैं, मेरी जेब में बनिया हैं। हे ! अभिमानी मानव, ब्राह्मण और बनिया को जेब में समेटने का दुस्साहस मत करो। ये घमंड और अहंकार बहुत महँगा पड़ेगा।

- MP CONGRESS (@MPCONGRESS) 8 Nov 2021

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local