Junior Inter Academy National Hockey: भोपाल (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश हाकी अकादमी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए लगातार दूसरी बार प्रथम हाकी इंडिया जूनियर बालक इंटर अकादमी नेशनल हाकी चैंपियनशिप का खिताब जीत लिया है। मप्र अकादमी ने फाइनल मुकाबले में राजा करण सिंह अकादमी को 3-1 से हराया। फाइनल मुकाबले केदौरान पद्मश्री पुलेला गोपीचंद भी उपस्‍थ‍ित रहे।

हाकी इंडिया और मप्र खेल विभाग के संयुक्त तत्वावधान में स्थानीय मेजर ध्यानचंद हाकी स्टेडियम पर खेले गए फाइनल मैच के पहले क्वार्टर में दोनों टीमों ने सधे हुए खेल का प्रदर्शन किया। हालांकि दोनों ही टीमें गोल नहीं कर पाई।

दूसरे क्वार्टर में मध्य प्रदेश अकादमी के कोच समीर दाद ने टीम को कुछ बदलती हुई रणनीति के साथ उतारा। इसका फायदा टीम को मिला और उन्होंने दो गोल दाग दिए। मैच के 19वें मिनट में टीम को एक पेनटी कार्नर मिला, जिस पर सौरभ पशीने ने गोल करके टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।

अगले ही मिनट में अख्तर अली को मौका मिला और उन्होंने टीम को 2-0 की बढ़त पर ला दिया। लगातार हुए दो गोल से राजा करण अकादमी की टीम दबाव में आ गई। उन्होंने जवाब हमले किए, लेकिन गोलकीपर हेमम धनराज सिंह ने इसे विफल कर दिया।

मैच के 39वें मिनट में श्रेयस धुपे ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करते हुए टीम की बढ़त को 3-0 कर दिया। मैच के चौथे क्वार्टर में राजा करण हॉकी अकादमी को पेनल्टी स्ट्रोक मिला और अज्ञपाल ने इसे गोल में बदलकर स्कोर 1-3 कर दिया। हालांकि, इसके बाद कोई और गोल नहीं हुआ। इसके साथ ही मप्र अकादमी ने 3-1 से खिताब अपने नाम कर लिया।

नामधारी इलेवन तीसरे स्थान पर

चैंपियनशिप में तीसरे स्थान के मुकाबले में नामधारी इलेवन ने राउंडग्लास पंजाब अकादमी को 6-4 से पराजित किया। मुकाबले के पहले और दूसरे क्वार्टर में दोनों टीमों ने 1-1 गोल दागे। तीसरे क्वार्टर में मुकाबला काफी रोमांचक रहा। राउंडग्लास पंजाब ने लगातार दो गोल दागकर टीम को 3-1 से आगे कर दिया। हालांकि, नामधारी ने दबाव से उबरते हुए लगातार हमले करते हुए एक के बाद एक तीन गोल दाग दिए।

इसके साथ ही टीम 5-4 से बढ़त पर आ गई। अंतिम क्वार्टर में दोनों टीमों ने आक्रामक खेल का प्रदर्शन किया और 57वें मिनट में नामधारी ने एक और गोल करते हुए स्कोर 6-4 करते हुए मुकाबला अपने नाम कर लिया। नामधारी इलेवन के कप्तान राजिंदर सिंह ने सर्वाधिक तीन गोल किए, जबकि मोखरम सिंह ने दो गोल दागे।

खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया खिलाड़ियों की हौसला अफजाई के लिए मैदान पर पहुंचीं। उनके साथ पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी पद्मश्री पुलैला गोपीचंद भी उपस्थित रहे। उन्होंने दोनों टीमों के खिलाड़ियों को अच्छे प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं दी।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local