Karwa Chauth 2021 : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। रविवार को करवा चौथ पर सुहागिन महिलाओं ने निर्जला व्रत रखा। शाम ढलने के बाद चंद्रदेव का बेसब्री से इंतजार करना शुरू कर दिया। रात्रि में चांद नजर आते ही महिलाओं ने चलनी से चंद्रमा के दर्शन कर मिट्टी के करवा से चंद्रदेव को अर्ध्य दिया। साथ ही अपने सुहाग के दीर्घायु होने एवं परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। इसके बाद पति के हाथ से जल पीकर व्रत का पारण किया। कार्तिक कृष्ण चतुर्थी के अवसर पर महिलाओं ने मंदिरों में जाकर पूजा-अर्चना की। चंद्रोदय की प्रतीक्षा करने वाली महिलाओं ने दिन का वक्त मेहंदी व रंगोली सजा कर बिताया। शाम होने ही महिलाएं पूजा की तैयारियों में जुट गई थीं। उन्होंने विधि विधान से माता पार्वती व भगवान शिव की पूजा की। चंद्रमा के प्रथम दर्शन करीब रात्रि 8.24 बजे के बाद ही हो सके। इसके घरों के आंगन और छतों पर चंद्रदेव के पूजन का सिलसिला शुरू हो गया। शहर में अनेक स्थानों पर महिलाओं ने सामूहिक रूप से करवा चौथ का त्योहार मनाया।

ब्यूटी पार्लरों में लगी महिलाओं की कतारें

करवा चौथ व्रत के मौके पर शास्त्रों में सोलह श्रंृगार का विधान है। इस वजह से दिनभर ब्यूटी पार्लरों में महिलाओं की भीड़ लगी रही।

400 से अधिक महिलाओं ने मेहंदी लगवाई

सेवा भारती नानक मंडल की बहनों ने शहर में आधा दर्जन स्थानों पर मेहंदी, श्रंगार का शिविर लगाया था। गोयल धर्मशाला, सुभाष चौक, श्रीराधा कृष्ण मंदिर घोड़ा नक्कास, खेड़ापति हनुमान मंदिर ओमशिव नगर लालघाटी, ईदगाह हिल्स स्थित सेवा भारती योग केंद्र पर शनिवार को दोपहर 12 बजे से शाम पांच बजे तक 400 से अधिक महिलाओं ने मेहंदी लगवाई।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local