भोपाल/गुना। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक लक्ष्मण सिंह ने एक बार फिर अपनी ही सरकार के काम पर सवाल उठाकर मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। लक्ष्मण सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ मजबूर नहीं, मजबूत सीएम बनकर काम करें। उनके सरकार बचाने के प्रयासों के कारण प्रदेश में नीचे के स्तर पर काम दिखाई नहीं दे रहे हैं। वहीं, भाजपा ने कमलनाथ सरकार में वरिष्ठ विधायकों को तवज्जो नहीं देने की वजह से ऐसी परिस्थितियां निर्मित होने पर तंज भी कसा है। कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने नईदुनिया से चर्चा में कहा कि दो दिन पहले चांचौड़ा में एक महिला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज करवाने गई थी, लेकिन वहां चिकित्सक उपलब्ध नहीं थे। इससे वे एक निजी क्लीनिक में पहुंची, वहां उसे एक इंजेक्शन लगाया गया। इसके बाद संक्रमण के कारण उसकी मौत हो गई थी।

विधायक बोले कि जब वे उसके परिजन से मिलने पहुंचे तो पूरा घटनाक्रम पता चला। मैं दस महीने से चांचौड़ा में एक चिकित्सक की मांग कर रहा हूं। अभी जो चिकित्सक है, वह बीएएमएस है और दो या तीन घंटे के लिए आता है। इसके कारण क्षेत्र के लोगों को ऐसे क्लीनिकों में इलाज करवाने जाना पड़ता है जो ड्रेसर के भरोसे चल रहे हैं।

सरकार चलाने पर ध्यान दें

लक्ष्मण सिंह ने चांचौड़ा में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि मनरेगा में काम नहीं हो रहे हैं। स्वास्थ्य सेवाओं की हालत खराब है। स्कूलों में शिक्षकों की कमी है। कॉलेजों में जनभागीदारी समितियां नहीं बनाई गईं। सिंह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को कहा कि वे इस पर ध्यान न दें कि सरकार कब तक है, जब तक है तब तक अच्छा काम करें।

अभी नीचे काम दिखाई नहीं दे रहे हैं। हालांकि उन्होंने अपने कथन को स्पष्ट करते हुए कहा कि वे चाहते हैं कि सरकार पांच साल चले। गौरतलब है कि लक्ष्मण सिंह अपने बयानों से कांग्रेस की दस महीने की सरकार को कई बार मुश्किल में डाल चुके हैं।

भाजपा ने कांग्रेस को घेरा

लक्ष्मण सिंह के अपनी सरकार के कामकाज पर उठाए गए सवालों पर भाजपा ने भी चुटकी ली है। पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि कांग्रेस ने अपने ही वरिष्ठ विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया है, जिससे ऐसी परिस्थितियां बन रही हैं। मंत्रिमंडल में योग्यता को दरकिनार किया गया है।

लक्ष्मण सिंह, बिसाहूलाल सिंह, केपी सिंह व एंदल सिंह जैसे अनुभवी लोग बाहर होंगे तो ऐसी ही स्थिति बनेगी। मुख्यमंत्री सुबह से शाम तक सरकार बचाने की जुगत में लगे हैं। सरकार की हालत खराब है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan