भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। लव जिहाद पर प्रभावी कानून के मसौदे को लेकर मध्य प्रदेश सरकार अंतिम न‍िर्णय की हालत में आ गई है। बुधवार को गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने विभागीय अधिकारियों की बैठक बुलाई है। इसमें प्रस्तावित कानून के प्रविधानों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी।

मसौदा वरिष्ठ सदस्य सचिव समिति को भेजा जा सकता है

यदि प्रविधानों में बदलाव की स्थिति नहीं बनी, तो मसौदा वरिष्ठ सदस्य सचिव समिति को भेज दिया जाएगा। समिति की मंजूरी के बाद मसौदे को एक बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान देखेंगे, इसके बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी। सरकार इसी (दिसंबर) विधानसभा सत्र में कानून पारित कराने की तैयारी में है।

कानून में कठोर प्रविधान करने संबंधी अन्य मांगों पर भी विचार होगा

बुधवार को प्रस्तावित बैठक के दौरान विधान सभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा की मांग सहित कानून में कठोर प्रविधान करने संबंधी अन्य मांगों पर भी विचार किया जाएगा। संभव है कि विभिन्न् स्तर से उठ रही मांगों के हिसाब से मौजूदा मसौदे में बदलाव करने का निर्णय भी हो। यदि बदलाव की स्थिति बनी, तो हफ्तेभर में संशोधित मसौदा तैयार होगा और ऐसा नहीं हुआ, तो प्रस्तावित मसौदा वरिष्ठ सदस्य सचिव समिति को भेज दिया जाएगा।

समिति इसके कानूनी पहलुओं पर विचार करने के बाद मसौदे को मंजूरी देगी। हालांकि मसौदे को गृह मंत्री डॉ. मिश्रा की हरी झंडी मिल भी जाती है, तो इसे कानूनी शक्ल में आने के लिए लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा। उल्लेखनीय है कि पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश ने इस कानून का अध्यादेश जारी कर दिया है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags