भोपाल Madhya Pradesh News। राजधानी भोपाल में एक हफ्ते में दो ऐसे मामले सामने हैं, जहां मां ने ही अपनी मासूम बच्चियों को मौत के घाट उतार दिया। किसी ने प्रेमी तो किसी ने बेटे की चाहत में मासूम बेटियों की जिंदगी खत्म कर दी। बीते छह माह में प्रदेश के 29 जिलों में 58 नवजात लावारिस मिले हैं। इनमें लॉकडाउन में 27 और अनलॉक के बाद 31 नवजात पुलिस को लावारिस हालत में मिले।

20 जिले ऐसे हैं, जहां एक-एक नवजात मिला, जबकि नौ जिले में दो या अधिक नवजात पुलिस को मिले। डायल 100 के पास पहुंची जानकारी से ये आंकड़ा सामने आया है। भोपाल के तलैया में एक महिला ने प्रेम प्रसंग के चलते अपनी बच्ची को तालाब में फेंककर हत्या कर दी थी, जबकि खजूरी सड़क इलाके में एक माह की बच्ची को उसकी मां ने पानी की टंकी में डूबा दिया था।

पुलिस ने दोनों ही मामलों में मां के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज किया है। इसी तरह प्रदेश के 29 जिले में नवजात को पैदा होने के बाद उनकी मां या स्वजन ने किसी न किसी कारण से तालाब, सड़क किनारे, झाड़ियों, बस स्टैंड पर पन्नी में लावारिस छोड़ दिया। इनमें से अधिकतर की मौत हो गई। इक्का-दुक्का की जान ही बच सकी।

- लॉकडाउन और अनलॉक में करीब 58 नवजात के लावारिस स्थान पर मिलने की सूचना डायल 100 को मिली। इनके मिलने के बाद कार्रवाई की गई। - बीना सिंह, एसपी डायल 100

इन जिलों में मिला एक नवजात

रतलाम, नीमच, आलीराजपुर, बुरहानपुर, अशोकनगर, बैतूल, छतरपुर, गुना, हरदा, जबलपुर, कटनी, मुरैना, मंडला, पन्ना, रीवा, सागर, सीहोर, सीधी, सिंगरौली, टीकमगढ़।

इन जिलों में मिले दो या अधिक नवजात

धार - 5, इंदौर - 4, खंडवा - 3, उज्जैन - 2, भिंड - 4, भोपाल - 3, छिंदवाड़ा -7, ग्वालियर - 4, राजगढ़ - 3, कटनी - 3

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020