Madhya Pradesh Assembly by-elections: भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। मध्य प्रदेश में सरकार का भविष्य तय करने वाले 28 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए भाजपा विधानसभावार संकल्प पत्र लाएगी। इसके लिए पार्टी ने सभी मंत्रियों से सुझाव मांगे हैं। संकल्प पत्र का फोकस किसान और रोजगार पर रहेगा।

इसके अलावा प्रवासी श्रमिक और क्षेत्रीय विकास की रणनीति भी इसमें शामिल रहेगी। इसे 12 अक्टूबर को घोषित किया जा सकता है। उधर कांग्रेस के मेहगांव, मुरैना, ब्यावरा और मलहरा सीट के वचन पत्र प्रत्याशी का नाम तय नहीं होने की वजह से रोक लिए गए हैं। कुछ नए बिंदु भी इसमें शामिल करने की तैयारी है। प्रदेश कांग्रेस 24 विधानसभा क्षेत्रों के वचन पत्र घोषित कर चुकी है।

अब भाजपा संकल्प पत्र के नाम से घोषणा पत्र लाएगी। यह भी विधानसभावार होगा। इसके लिए सभी मंत्रियों से सुझाव मांगे गए हैं। बताया जा रहा है कि पार्टी का फोकस किसान, युवा और जातीय समीकरणों पर होगा। राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली चार हजार रुपये की किसान कल्याण निधि को पार्टी कर्जमाफी के काट के तौर पर प्रस्तुत करेगी।

फसल बीमा योजना के लिए अगले साल बनाई जाने वाली प्रदेश की कंपनी और सभी किसानों को न्यूनतम बीमा राशि देने के प्रविधान को शामिल किया जा सकता है। इसमें कृषक उत्पादक समूह के गठन की तैयारियों को प्रमुखता से बताया जा सकता है। साथ ही हर क्षेत्र के विकास के लिए पृथक योजना भी प्रस्तुत की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन क्षेत्रों में चार से पांच हजार करोड़ रुपये के कामों की घोषणा कर चुके हैं। इन्हें भी संकल्प पत्र में स्थान दिया जाएगा। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा का कहना है कि संकल्प पत्र को लेकर तैयारी चल रही है। विचार-विमर्श करने के बाद इसे अंतिम रूप दिया जाएगा।

भाजपा के संकल्प पत्र में यह हो सकता है

विकास का खाका प्रस्तुत किया

कांग्रेस वहीं, कांग्रेस मेहगांव, मुरैना, ब्यावरा और मलहरा के प्रत्याशी घोषित करने के बाद इन विधानसभा क्षेत्रों के वचन पत्र भी घोषित करेगी। प्रदेश कांग्रेस के विचार विभाग के अध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने बताया कि वचन पत्र की तैयारी पूरी हो चुकी है। पार्टी ने वचन पत्र के माध्यम से क्षेत्र के विकास का खाका प्रस्तुत किया है। साथ ही राज्य स्तर पर कांग्रेस सरकार में आने पर क्या और करेगी, यह जनता के सामने रखा गया है। इसमें कोरोना संक्रमण से मुखिया की मृत्यु होने पर परिवार के एक सदस्य को संविदा नियुक्ति, फुटकर विक्रेताओं को 50 हजार रुपये तक बिना ब्याज के कर्ज, ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में रानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा लगाने का वचन शामिल है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags