आबकारी संबंधी मंत्री मूह की बैठक में वाणिज्यिक कर विभाग के प्रस्ताव को दी सहमति

भोपाल (राज्य ब्यूरो)। मध्य प्रदेश में बीयर की खपत 2019 की तुलना में अप्रैल 2022 में 61 प्रतिशत बढ़ गई है। इसे देखते हुए सरकार अब बीयर पर आयात शुल्क प्रति बल्क लीटर 30 रुपये से घटाकर 20 रुपये करने जा रही है। इसी तरह वाइन पर भी आयात शुल्क 10 रुपये प्रति प्रूफ लीटर दस रुपये से घटाकर पांच रुपये किया जाएगा। गृह मंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा की अध्यक्षता में गठित मंत्री समूह ने वाणिज्यिक कर विभाग के प्रस्ताव को सहमति दे दी। अब इसे अंतिम निर्णय के लिए कैबिनेट के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

डा. मिश्रा ने बताया कि मंत्री समूह ने बीयर पर आयात शुल्क में कमी करने के प्रस्ताव पर सहमति जताई है। प्रदेश में लगभग तीन हजार 600 शराब दुकानें हैं। इन सभी में देशी और विदेशी शराब मिल रही है। जबकि पहले सिर्फ एक हजार 200 विदेशी शराब की दुकान पर ही बीयर मिलती थी। आबकारी विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कंपोजिट दुकान होने से उपलब्धता बढ़ी है।

इसके कारण खपत में भी वृद्धि हुई है। प्रदेश में बीयर बनाने वाली कपंनियां पूरी क्षमता के साथ उत्पादन कर रही हैं। मांग की पूर्ति के लिए अब आयात शुल्क में कमी की जा रही है। बैठक में प्रदेश के गोदाम से दुकानों को शराब को मदिरा प्रदाय को लेकर मिल रही शिकायतों के निराकरण के लिए आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा ने दो दिन में परीक्षण कराकर समिति को अवगत कराने की बात कही।

अब 26 मई को आबकारी नीति से जुड़े अन्य मुद्दों पर विचार करके प्रस्ताव सरकार को भेजा जाएगा। बैठक में वन मंत्री विजय शाह, प्रमुख सचिव दीपाली रस्तोगी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक अवस्थी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close