Madhya Pradesh News: भोपाल (राज्य ब्यूरो)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को राजभवन में राज्यपाल मंगुभाई पटेल से सौजन्य भेंट की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को राज्य सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं और सुराज अभियान सहित अन्य मुद्दों की जानकारी दी।

जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को प्रदेश में सुशासन, विकास कार्यों और जन कल्याण के लिए सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में बताया। इसके अलावा अनुसूचित जनजाति वर्ग के कल्याण के लिए शुरू की गई योजनाओं पर भी चर्चा की गई।

आदिवासी वर्ग के युवाओं को रोजगार देने के लिए एक वर्ष के भीतर जनजाति वर्ग के सभी बैकलाग पदों पर भर्ती को लेकर किए जा रहे प्रयासों के बारे में भी राज्यपाल को बताया गया। वन समितियों के गठन और उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों के क्रियान्वयन की स्थिति भी स्पष्ट की। सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति और टीकाकरण में बन रहे रिकार्ड की जानकारी भी राज्यपाल से साझा की है।

सशस्त्र सीमा बल की साइकिल रैली को हरी झंडी दिखा मंगुभाई पटेल ने किया रवाना

राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि सैनिक राष्ट्र का गौरव होते हैं। जनमानस को उनसे राष्ट्र की सेवा और संकल्प की प्रेरणा लेनी चाहिए। आजादी के अमृत महोत्सव को जन उत्सव के रूप में मनाया जाए। सीमा सुरक्षा बलों द्वारा देश के विभिन्न् हिस्सों, भाषा, वर्ग और समुदायों के बीच देश की आजादी के लिए अपना सब कुछ खपा देने वाले अनजान नायकों, नायिकाओं की गाथाओं को पहुंचाया जाए।

राज्यपाल रविवार को शौर्य स्मारक भोपाल में सशस्त्र सीमा बल की साइकिल रैली शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। यह रैली राजघाट दिल्ली पर संपन्न् होगी। राज्यपाल ने कहा कि हमारा देश ज्ञान और समृद्धि का प्रतीक था। यहां तक्षशिला-नालंदा जैसे ज्ञान के केंद्र थे, जहां दुनिया भर के लोग ज्ञान प्राप्त करते थे। ऐसे वीर सेनानी थे, जिनकी वीरता की दुनिया में मिसाल दी जाती थी। व्यापार करने आए अंग्रेजों ने लोगों की आपसी फूट और भेदभाव का लाभ उठाते हुए सत्ता हड़प ली। आजादी के लिए किए गए त्याग और बलिदान से युवा पीढ़ी को परिचित कराया जाए।

सशस्त्र सीमा बल अकादमी के निदेशक राजिंद्र कुमार भूमला ने बताया कि साइकिल रैली करीब 865 किलोमीटर की यात्रा कर दो अक्टूबर को राजघाट पर संपन्न् होगी। भोपाल स्थित प्रशिक्षण अकादमी द्वारा सहायक कमांडेंट से लेकर उप महानिरीक्षक स्तर के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। राज्यपाल ने हरी झंडी दिखाकर साइकिल रैली को रवाना किया।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local