Madhya Pradesh News : भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार के लगभग सौ घंटे बाद विभागों के बंटवारे की गुत्थी नहीं सुलझ सकी। विभागों के आवंटन को लेकर फंसे पेच को सुलझाने के लिए दिल्ली में दो दिन से बैठकों में मंथन चल रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को सतत दूसरे दिन पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की।

इस कारण मुख्यमंत्री का भोपाल लौटने का कार्यक्रम भी दो बार बदला। अब वे मंगलवार को लौटेंगे। मुख्यमंत्री पहले पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी विनय सहस्रबुद्धे से मिले और उसके बाद रात साढ़े आठ बजे से मप्र भवन में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ लंबी बैठक की।

बताया जा रहा है कि भाजपा के वरिष्ठ मंत्रियों और ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक कुछ मंत्रियों को बड़े विभाग देने को लेकर खींचतान है। मुख्यमंत्री वरिष्ठ मंत्रियों को उनके कद और अनुभव के हिसाब से विभाग देना चाहते हैं, जबकि सिंधिया समर्थक मंत्री वजनदार विभाग चाहते हैं।

वे किसी भी सूरत में पूर्व कमल नाथ सरकार में सिंधिया समर्थक मंत्रियों के पास जो विभाग थे, उनसे कमतर पर सहमत नहीं हैं। मुख्यमंत्री की कोशिश यही है कि दोनों के बीच तालमेल बन जाए, ताकि आगे किसी प्रकार की अप्रिय स्थिति निर्मित न हो। यही वजह है कि उनका भोपाल वापस आने का कार्यक्रम दो बार टला। पहले उनका तीन बजे वापस आने का कार्यक्रम था। इसे संशोधित कर साढ़े नौ बजे किया गया और फिर यह भी निरस्त हो गया।

सहस्रबुद्धे से सिंधिया ने की मुलाकात

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी उपाध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी विनय सहस्रबुद्धे से मुलाकात की। दोनों के बीच प्रदेश की राजनीतिक स्थिति और उपचुनाव को लेकर चर्चा हुई। इस मुलाकात को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि मुख्यमंत्री ने भी सहस्रबुद्धे से मुलाकात की थी।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020