Madhya Pradesh News: भोपाल (राज्य ब्यूरो)। सफेद बाघ 'मोहन" की जन्मस्थली कहा जाने वाला सीधी स्थित संजय दुबरी टाइगर रिजर्व अब बायसन (गौर) का आशियाना बनेगा। सतपुड़ा और पेंच टाइगर रिजर्व से 50 बायसन वन विभाग संजय दुबरी पार्क भेज रहा है। राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) और राज्य वन्यप्राणी बोर्ड ने इस परियोजना को मंजूरी दे दी है। वर्षा का मौसम खत्म होते ही विभाग बायसन की पुनर्स्थापना की प्रक्रिया शुरू कर देगा।

जहां कई दशक पहले मिले थे मौजूदगी के प्रमाण

प्रदेश में वन्यप्राणियों को उन स्थानों पर फिर से बसाया जा रहा है, जहां कई दशक पहले उनकी मौजूदगी के प्रमाण मिले हैं। इससे जहां वन्यप्राणी अपने मूल घरोंदों में पहुंचेंगे, वहीं किसी महामारी की स्थिति में इन प्रजातियों को सुरक्षित रखने में भी आसानी होगी।

50 बायसन संजय दुबरी टाइगर रिजर्व भेजेंगे

इसी उद्देश्य के चलते सतपुड़ा और पेंच टाइगर रिजर्व से 50 बायसन संजय दुबरी टाइगर रिजर्व भेजे जा रहे हैं। वन अधिकारियों के मुताबिक संजय दुबरी पार्क में बायसन की मौजूदगी के ऐतिहासिक साक्ष्य मिले हैं, पर पिछले कई दशक से संबंधित वन क्षेत्र में इनका रहवास नहीं है।

पार्क की जलवायु बायसन के अनुकूल

उनका कहना है कि पार्क की जलवायु बायसन के अनुकूल है इसलिए उन्हें वहां शिफ्ट किया जा रहा है। प्रदेश के मुख्य वन्यप्राणी अभिरक्षक आलोक कुमार का कहना है कि भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून के विशेषज्ञों ने संजय दुबरी पार्क का दौरा किया है और बायसन की पुनर्स्थापना

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local