भोपाल। राजभवन में तैनात एक पीएसओ (प्रोटेक्टिव सर्विस ऑफिसर) उस समय गोली लगने से घायल हो गया, जब उसके साथी पीएसओ से पिस्टल के चेक करते समय फायर हो गया। घटना के समय वह एसएएफ के नेहरू नगर स्थित शास्त्रागार में हथियार के भौतिक परीक्षण के लिए रोजाना की तरह गए थे। इस घटना के बाद पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया। घायल पुलिसकर्मी को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना कमला नगर थाना क्षेत्र में शुक्रवार की शाम पौने चार बजे की है।

जानकारी के अनुसार इंदौर में स्थित 15 वीं एसएएफ वाहिनी में पदस्थ 24 वर्षीय सुनील मरोठिया राजभवन में पीएसओ के रूप में तैनात है। उसकी बटलियन में ही लईक खान भी पीएसओ हैं। दोनों की पोस्टिंग साथ में ही है। दोनों शुक्रवार दोपहर को 25 वाहिनी में स्थित एसएएफ की शस्त्रागार अपनी शासकीय पिस्टल का भौतिक परीक्षण कराने गए थे। दोनों ने अपने-अपने हथियार खोलकर सामने रखे थे। तभी आरक्षक लईक खान ने पिस्टल में कारतूस चेक (नॉक) करते समय पिस्टल का टिगर दबा दिया।

इसी के साथ तेज आवाज से गोली निकली और उसके पीछे खड़े सुनील मरोठिया के जांघ में लग गई। इससे सुनील लहूलुहान होकर गिर पड़ा। उसे निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी हालत पहले से बेहतर बताई जा रही है।

रोजाना हथियार इश्यू कराने के लिए होता सत्यापन

राजभवन में तैनात पीएसओ को अपने शासकीय हथियार का रोजाना भौतिक सत्यापन कराने के लिए विभागीय शास्त्रागार में जाना पड़ता है। इसी के तहत ये दोनों पुलिसकर्मी गए थे। वहां हथियार पूरा खोलकर दिखाना पड़ता है। कारतूस की गिनती होती है। इसके लिए पिस्टल का नॉक करना था, लेकिन लईक ने सीधे ट्रिगर ही दबा दिया। उसकी इस लापरवाही के लिए कमला नगर थाने में केस रजिस्टर्ड किया जा रहा है।

आला अफसरों को दी सूचना

कमला नगर टीआई आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि हथियार के भौतिक सत्यापन के दौरान लईक से फायर हुआ और गोली उसके साथी को लगी है। दोनों पीएसओ हैं ।आरोपित के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा रही है। आरक्षक के इंदौर में स्थित 15 वीं वाहिनी के अफसरों को भी सूचना दी गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network