भोपाल(नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश साहित्य अकादमी द्वारा 13 अखिल भारतीय एवं 15 प्रादेशिक कृति पुरस्कार कैलेेंडर वर्ष 2018 के पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई है। अखिल भारतीय पुरस्कार के तहत एक लाख रुपये एवं प्रादेशिक प्रति पुरस्कार में 51हजार रुपये के साथ शाल, श्रीफल, स्मृति चिन्‍ह और प्रशस्ति पत्र से रचनाकारों को अलंकृत किया जाता है।

अखिल भारतीय पुरस्कार: अखिल भारतीय पं. माखनलाल चतुर्वेदी पुरस्कार (निबंध) डा. रामदीन त्यागी, भोपाल की कृति मीडिया से दूर गिरिजन, अखिल भारतीय गजानन माधव मुक्तिबोध (कहानी) इंजी. आशा शर्मा, बीकानेर की कृति तस्वीर का दूसरा रुख, अखिल भारतीय राजा वीरसिंह देव (उपन्यास) कृष्णा अग्निहोत्री, खंडवा की कृति हरिप्रिया, अखिल भारतीय आचार्य रामचंद्र शुक्ल (आलोचना) प्रो. मिथिला प्रसाद त्रिपाठी, इंदौर की कृति साहित्य का अभिप्राय, अखिल भारतीय पं. भवानी प्रसाद मिश्र (गीत एवं हिंदी गजल) कांति शुक्ला 'उर्मि", भोपाल की कृति कल्पना के उग आये पंख, अखिल भारतीय अटल बिहारी वाजपेयी (कविता) आचार्य देवेंद्र देव, बरेली की कृति हठयोगी नचिकेता, अखिल भारतीय कुवेरनाथ राय (ललित निबंध) नर्मदा प्रसाद उपाध्याय, इंदौर की कृति चिनगारी की विरासत, अखिल भारतीय विष्णु प्रभाकर (आत्मकथा-जीवनी) महेश सोनी-भोपाल की कृति यादों से भरा झोला, अखिल भारतीय निर्मल वर्मा (संस्मरण) डा. आनंद प्रकाश शर्मा-पिपरिया की कृति चैतुआ, अखिल भारतीय महादेवी वर्मा (रेखाचित्र) डा. मंजरी शुक्ला, पानीपत की कृति यादों की दुपहरी, अखिल भारतीय प्रो. विष्णुकांत शास्त्री (यात्रा-वृत्तांत) राजेंद्र उपाध्याय,दिल्ली की कृति नावें, समुद्र और जहाज, अखिल भारतीय भारतेंदु हरिश्चंद्र (अनुवाद) अरविंद जवलेकर, इंदौर की कृति कृतार्थ मैं! कृतज्ञ मैं, अखिल भारतीय नारद मुनि पुरस्कार (इंटरनेट मीडिया) केशव गुप्ता, इंदौर को दिया गया है।

प्रादेशिक पुरस्कार: प्रादेशिक वृंदावन लाल वर्मा पुरस्कार (उपन्यास) आलोक शर्मा, इंदौर की कृति अनंत चंद्र, प्रादेशिक सुभद्रा कुमारी चैहान (कहानी) गोकुल सोनी, भोपाल की कृति कठघरे में हम सब, प्रादेशिक श्रीकृष्ण सरल (कविता) प्रतीक सोनवलकर, उज्जैन की कृति समर्पण, प्रादेशिक आचार्य नंददुलारे वाजपेयी (आलोचना), राधेश्याम आचार्य, इंदौर की कृति श्रीयमुने रसपान, प्रादेशिक हरिकृष्ण पे्रमी (नाटक) संजय श्रीवास्तव, भोपाल की कृति सरहदें, प्रादेशिक राजेंद्र अनुरागी (डायरी) ब्रजेश राजपूत, भोपाल की कृति आफ द स्क्रीन, प्रादेशिक पं. बालकृष्ण शर्मा नवीन (प्रदेश के लेखक की पहली कृति) सीमा शर्मा, भोपाल की कृति गीत अजुरी, प्रादेशिक ईसुरी (लोकभाषा विषयक) महेश जोशी अनल, खरगोन की कृति हाल चाल सब अच्छा छे, प्रादेशिक हरिकृष्ण देवसरे (बाल साहित्य) ओमप्रकाश क्षत्रिय प्रकाश नीमच की कृति बधाों सुनो कहानी, प्रादेशिक नरेश मेहता (संवाद, पटकथा लेखन), पवन सक्सेना, ग्वालियर का पटकथा लेखन चंबल का शौर्य, प्रादेशिक जैनेंद्र कुमार 'जैन" (लघुकथा) प्रताप सिंह सोढ़ी, इंदौर की कृति मेरी प्रिय लघुकथाएं, प्रादेशिक सेठ गोविंद दास (एकांकी) दविंदर सिंह ग्रोवर, जबलपुर की कृति रानी दुर्गावती, प्रादेशिक शरद जोशी (व्यंग्य) आशीष दशोत्तर, रतलाम की कृति मोरे अवगुन चित में धरो, प्रादेशिक वीरेंद्र मिश्र (गीत) यतींद्रनाथ राही, भोपाल की कृति सांध्य के ये गीत लो... एवं प्रादेशिक दुष्यंत कुमार पुरस्कार (गजल) अनिल त्रिवेदी,इंदौर की कृति जिंदगी मिलेगी दोबारा को दिया गया है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close