भोपाल। मैग्निफिसेंट एमपी से ठीक एक दिन पहले गुरुवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ इंदौर में पांच प्रोजेक्ट का लोकार्पण करेंगे। इसमें स्मार्ट इंडस्ट्रीयल पार्क, पीथमपुर जल प्रदाय योजना, सिंहासा आईटी पार्क, अंतराज्यीय बस स्टैंड और आईटी कमांड एंड कंट्रोल सेंटर शामिल हैं। इसके अलावा ब्रिलियंट कंवेंशन सेंटर ग्राउंड में प्रदर्शनी का मुख्यमंत्री उदघाटन करने के साथ पीथमपुर औद्योगिक संगठन और अमेरिका की इम्पीटस टेक्नोलॉजी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे। सीआईआई की नेशनल काउंसिल के रात्रि भोज में हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम में देश के शीर्ष उद्योगपति भी रहेंगे।

उद्योग विभाग के अधिकारियों का कहना है कि मैग्निफिसेंट एमपी में 800 से ज्यादा उद्योगपति हिस्सा लेंगे। इसमें देश के बड़े औद्योगिक घरानों से या तो मुखिया स्वयं आएंगे या फिर उनके प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। रिलायंस समूह के अध्यक्ष मुकेश अंबानी बोर्ड ऑफ डायरेक्टर की बैठक होने की वजह से वेबकास्टिंग के जरिए कार्यक्रम से जुड़ सकते हैं।

वहीं, बिड़ला ग्रुप के कुमार मंगलम बिड़ला, बजाज फिनसर्व के सीईओ संजीव बजाज, ब्लू स्टार के वीएस आडवाणी, गोदरेज समूह के आदि गोदरेज, अडानी समूह के प्रणव अडानी, विक्रम किरलोस्कर, इंडिया सीमेंट के एन श्रीनिवासन, सन फार्मा के दिलीप सिंघवी, केडिला ग्रुप के राजीव मोदी सहित अन्य प्रमुख उद्योगपति कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

नहीं होंगे एमओयू

मैग्निफिसेंट एमपी में इस बार कोई एमओयू नहीं होगा। सरकार उद्योगपतियों के सामने आपनी बात रखेगी और उनकी बात सुनेगी। सिर्फ उन्हीं प्रोजेक्ट का एलान होगा, जिनको लेकर प्रक्रिया चल रही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ का साफ कहना है कि यह कार्यक्रम दिखावे का नहीं, बल्कि उद्योगों के बीच भरोसा पैदा करने का है। इसके जरिए ही निवेश आएगा। आठ सत्रों में उद्योग और सरकार के प्रतिनिधियों के बीच चर्चा होगी। इसमें सवाल-जवाब का सिलसिला चलेगा।

मुख्यमंत्री कर सकते हैं कुछ एलान

सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ उद्योगों के साथ चर्चा के बाद कुछ नीतिगत एलान भी कर सकते हैं। इसमें उद्योगों को कुछ और सहूलियतें दी जा सकती हैं। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री अब तक सरकार द्वारा निवेशकों के हित में उठाए गए कदमों का ब्योरा मैग्निफिसेंट एमपी के उद्घाटन सत्र में अपनी बात रखते हुए देंगे।

डॉ. राजोरा पहुंचे, मुख्य सचिव सहित अन्य अधिकारी आएंगे

मैग्निफिसेंट एमपी के लिए प्रमुख सचिव उद्योग डॉ. राजेश राजोरा सहित अन्य विभागों के अधिकारी बुधवार को इंदौर पहुंच गए। मुख्य सचिव सुधिरंजन मोहंती सहित अन्य विभागों के अधिकारी गुरुवार को सुबह इंदौर पहुंच जाएंगे।

दो घंटे का रहेगा उद्घाटन सत्र

मैग्निफिसेंट एमपी का उद्घाटन सत्र शुक्रवार को दो घंटे का रहेगा। सुबह 11 बजे इसकी शुरुआत होगी, प्रदेश के मुख्य सचिव एसआर मोहंती स्वागत भाषण देंगे। इसके बाद 10 मिनट का एडवांटेज एमपी द पॉवर ऑफ ट्रस्ट नाम से फिल्म दिखाई जाएगी। मुख्यमंत्री कमलनाथ 20 मिनट अपनी बात रखेंगे। वहीं करीब एक घंटे का समय प्रमुख उद्योगपतियों द्वारा अपने अनुभव साझा किए जाएंगे। आखिर में प्रमुख सचिव उद्योग डॉ. राजेश राजौरा आभार व्यक्त करेंगे।

इन विषयों पर होंगे आठ सत्र

- अर्बन मोबेलिटी एंड रियल एस्टेट

- एमपी एज ए लॉजिस्टिक हब

- इंस्डस्ट्री 4.0 एमपी द इमर्जिंग इनोवेशन हब

- एमपी एज द इमर्जिंग फार्मास्युटिकल्स डेस्टिनेशन

- टेक्सटाइल एंड गारमेंट: स्टीचिंग फॉर यंग इंडिया

- एमपी रिपॉवरिंग द कंट्री: अपॉर्च्युनिटीज इन न्यू एंड रिन्युएबल एनर्जी

- फीडिंग इंडिया: अपॉर्च्युनिटीज इन फूड प्रोसेसिंग

- टूरिज्म अपॉर्च्युनिटीज इन एमपी

Posted By: Hemant Upadhyay