भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। Mahashivratri लालघाटी स्थित गुफा मंदिर में महाशिवरात्रि पर्व पर सुबह पूजा-अभिषेक और शाम को रूद्राभिषेक, महाआरती की जाएगी। यहां पहुंचने वाले दर्शनार्थियों को दिनभर भंडारा चलेगा। मंदिर परिसर में एक दिवसीय मेला का आयोजन होगा। जिसकी तैयारियां वृहद स्तर पर शुरू हो गई हैं। जिसमें पूजा-पाठ की सामग्री के साथ बच्चों, महिलाओं के लिए झूले आदि की व्यवस्था रहेगी। वैसे आम श्रद्धालुओं के लिए यह मंदिर दिनभर खुला रहता है। मंदिर में महाशिवरात्रि पर सुबह से मंदिर में श्रद्धालुओं की आवाजाही शुरू हो जाएगी।

महत्वः गुफा मंदिर जो राजधानी का एक प्रकार से हिंदू धार्मिक का सबसे बड़ा तीर्थ स्थल है, जहां बारह महीने श्रद्धालुओं का जमावड़ा लगा रहता है। मंदिर के महंत चंद्रमादास त्यागी महाराज के अनुसार मंदिर में श्रद्धालुओं को यहां भक्ति के साथ आनंद भी मिलता है। इस मंदिर की यश कीर्ति दूर-दूर तक फैली है। देशभर के सैकड़ों संत मंदिर से जुड़े हुए हैं।

विशेष : पहाड़ी की कदंराओं में बनी गुफा में जलकुंड में शिवलिंग स्थापित है। यह स्थान इसलिए भी अद्वितीय है कि जमीन से करीब 100 फीट की ऊंचाई पर पत्थरों पर कुंड बना है, जिसमें झरने से पानी बहता है। यह कुंड कभी सूखता नहीं है। हर समय पहाड़ी पर ठंडक बनी रहती है।

इतिहास : मंदिर का इतिहास 200 से अधिक पुराना है, लेकिन स्थाई रूप से 200 साल पहले नबाबी काल में मंदिर विकसित हुआ था। तभी से यह क्षेत्र लगातार अपने वैभव को प्राप्त कर रहा है। 1964 में मंदिर का जीर्णोद्धार हुआ था।

फैक्ट फाइल

- मंदिर 7 एकड़ क्षेत्रफल में फैला।

- 200 साल पुराना धार्मिक स्थल।

- दिनभर खुला रहता है मंदिर।

- प्रतिवर्ष मेले का आयोजन।

- भंडारा-प्रसादी का वितरण।

Posted By: Nai Dunia News Network