भोपाल नवदुनिया प्रतिनिधि। स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से हिंदी, गणित व विज्ञान के शिक्षकों को पांच दिन का प्रशिक्षण देकर खेल प्रशिक्षक तैयार किया जा रहा है। विभाग ने खेल प्रशिक्षक की कमी को पूरा करने के लिए यह प्रयोग निकाला है। इसके अनुसार सरकारी स्कूल के हिंदी, गणित, विज्ञान के शिक्षक को सिर्फ पांच दिन में प्रशिक्षण देकर खेल प्रशिक्षक तैयार किया जा रहा है। ये खेल प्रशिक्षक स्कूलों में अपने विषय के साथ-साथ विद्यार्थियों को खेल के लिए भी तैयार करेंगे। विद्यार्थियों को भी प्रशिक्षण शुरू किया जाएगा। इसके लिए सरस्वती विद्या मंदिर शारदा विहार आवासीय विद्यालय में भोपाल संभाग के अंतर्गत खेल प्रभारी शिक्षकों का पांच-पांच दिवसीय प्रशिक्षण का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी ने किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर खेले जाने वाले 14 खेलों का आधारभूत ज्ञान विद्यार्थियों को दें। स्कूलों में उपलब्ध संसाधन और मैदान का अधिकतम उपयोग कर विद्यार्थियों में खेल के प्रति रुचि पैदा करें। प्रमुख सचिव श्रीमती शमी ने खेलों का जायजा ले रही थी। उन्होंने शिक्षकों से कहा कि आपके द्वारा दिया गया प्रारंभिक ज्ञान ही विद्यार्थियों के अंदर भावी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी बनने का बीज बोएगा। यह प्रशिक्षण राज्य में सभी संभागीय मुख्यालयों पर चल रहे हैं। इसमें शालाओं के प्रभारी शिक्षकों को राष्ट्रीय स्तर पर खेले जाने वाले 14 खेलों का आधारभूत ज्ञान दिया जा रहा है। प्रमुख सचिव श्रीमती शमी ने सभी विधाओं में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे शिक्षकों से फीडबैक भी लिया। उन्होंने अपेक्षा की कि सभी प्रशिक्षु शिक्षक योजना बनाए कि आने वाले सत्र में किस प्रकार प्राप्त प्रशिक्षण के आधार पर विद्यार्थियों को अलग-अलग खेलों में प्रशिक्षित करेंगे। उन्होंने सभी शिक्षकों को खेलों से होने वाले शारीरिक एवं मानसिक लाभ से भी अवगत कराते हुए खेल पीरियड का समुचित उपयोग करने का आग्रह भी किया।

14 सालों में नहीं हुई भर्ती

प्रदेश में खेल में ग्रेजुएश्न कराने वाले 39 कालेज हैं। इनमें से हर साल 3950 खेल प्रशिक्षक निकलते हैं, लेकिन मध्यप्रदेश में इनके लिए 2008 के बाद से कोई भी भर्ती नहीं निकाली गई है। विभाग में स्वीकृत पद तो हैं, लेकिन रिक्त पड़े हैं। स्कूल शिक्षा विभाग में 2538 स्वीकृत पद हैं, इनमें से 1771 पद खाली है। इसमें सहायक संचालक(खेल) के 10 पद, व्याख्याता खेल के 4 पद, जिला खेल अधिकारी के 19 पद, उच्च वेतनमान खेल शिक्षक 16 पद, निम्न वेतनमानखेल शिक्षक 737, खेल शिक्षक वर्ग-ब के 271 पद, खेल शिक्षक वर्ग-अ के 714 पद खाली हैं। विभाग की ओर से अब तक 14 सालों में भर्ती नहीं हुई है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close