भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी में सुभाष फाटक से रानी कमलापति रेलवे स्टेशन तक पांच किमी लंबे रूट पर मेट्रो चलाने के लिए 248 दिवस का इंतजार बाकी है। लिहाजा काम की रफ्तार बढऩे लगी है। इस रूट पर जो सात स्टेशन बनने हैं, उनमें से सबसे पहले एमपी नगर स्टेशन का काम शुरु हुआ था। इसके बाद रानी कमलापति रेलवे स्टेशन, सुभाष फाटक और प्रेस काम्प्लेक्स के पास बनने वाले स्टेशनों के काम ने तेजी पकड़ी है। अब आठ में से चार स्टेशन के काम में तेजी आई है। शेष चार के काम भी जल्द ही रफ्तार पकड़ेंगे। इसी माह के अंत तक बचे हुए चार स्टेशन का काम शुरू हो जाएगा। इसके अलावा एमपी नगर में बन रहे मेट्रो स्टेशन का सिविल वर्क इस माह के अंत तक पूरा हो जाएगा और इसे डेकोरेट करने का काम फरवरी माह तक पूरा कर लिया जाएगा।

दरअसल मनीष सिंह को एमडी बनाए जाने के बाद इंदौर और भोपाल दोनों जगह काम की रफ्तार बढ़ी है। इसी के चलते राजधानी के आठ स्टेशन में से चार के काम तेजी से हो रहे है। इनमें एमपी नगर में बन रहे स्टेशन का सत्तर फीसदी काम पूरा हो गया है। जबकि सुभाष फाटक के पास भी डिपो और स्टेशन के काम की रफ्तार बढ़ी है। इसके चलते यहां भी पचास फीसदी से ज्यादा काम पूरा हो गया है।

उधर सबसे तेजी के साथ प्रेस काम्प्लेक्स के पास बन रहे स्टेशन के काम की रफ्तार बढ़ी है तो वहीं रानी कमलापति स्टेशन के सामने बनने वाले स्टेशन का आधार तैयार हो गया है। तय समय पर मेट्रो चलाने के लिए एमडी के तौर पर काम संभालने वाले मनीष सिंह ने इंदौर और भोपाल दोनों महानगरों में निर्माण कंपनी से श्रमिकों की संख्या बढ़ाने को कहा था जिसके चलते काम में तेजी आई है। अब माना जा रहा है कि भोपाल में मेट्रो ट्रेन के पहले फेज की सुविधा 248 दिन बाद मिलने लगेगी।

भोपाल में पहले चरण में आठ स्टेशन बनेंगे

एम्स से सुभाष नगर अंडरब्रिज तक आठ स्टेशन बनेंगे। इनमें एम्स, अलकापुरी, डीआरएम आफिस, रानी कमलापति रेलवे स्टेशन, डीबी सिटी, एमपी नगर जोन-1, आयकर भवन और सुभाष नगर अंडरब्रिज शामिल हैं। दो माह में यह स्टेशन बन जाएंगे।

सितंबर महीने के पहले मेट्रो के ट्रायल रन का शुभारंभ करना है। इसके लिए भोपाल व इंदौर मेट्रो परियोजना का काम तेजी से चल रहा है।

- मनीष सिंह, प्रबंध संचालक, मप्र मेट्रो

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close