भोपाल । प्रदेश में अभी भी मानसून सक्रिय है। मौसम केंद्र के अनुसार प्रदेश के राजगढ़, मंदसौर, उज्जैन, नीमच, ग्वालियर, मुरैना, श्योपुर तथा गुना जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी दी गई है।

जबलपुर, होशंगाबाद तथा शहडोल संभाग में कई स्थान पर भी भारी वर्षा की आशंका को देखते हुए किसानों को खरीफ फसलों की पौध सुरक्षा के लिये जल निकास करने की सलाह दी है। बताया गया है कि गुना के आसपास बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है। इसके साथ ही मानसून के राजस्थान की ओर बढ़ने से प्रदेश में अभी हो रही लगभग सतत वर्षा में कमी आयेगी तथा कहीं-कहीं छिटपुट वर्षा ही होगी।

कृषि विषेषज्ञों की सलाह है कि किसी भी स्थिति में किसानों को खेतों में पानी नहीं भरा रहने देना चाहिये। अन्यथा पौधों के पीला पड़कर सड़ जाने की आशंका रहती है। केवल धान के खेतों में जल भराव की स्थिति में विशेष अन्तर नहीं पड़ेगा।