MP Corona Update :भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश में सोमवार को कोरोना के 98 मरीज मिले हैंं। 5215 सैंपलों की जांच में यह मामले सामने आए हैं। करीब चार महीने बाद मरीजों की संख्या इस स्तर पर पहुंची है। इसके पहले सात मार्च को प्रदेश्ा में 117 मरीज मिले थे। इसके बाद से मरीजों की संख्या सोमवार को मिले मरीजों से कम रही है। भोपाल में 60 साल के एक मरीज की मौत भी हुई है।

इंदौर में सबसे ज्यादा 56 मरीज 265 सैंपलों की जांच में मिले हैं। यहां जांच कराने वालों में 21 प्रतिशत संक्रमित पाए गए हैं। उधर,11 मरीज स्वस्थ्ा भी हुए हैं। इसके साथ ही सक्रिय मरीजोें की संख्या 744 हो गई है। सरकारी और निजी अस्पतालों में 19 संक्रमित और 15 संदिग्ध भ्ार्ती हैं। बाकी होम आइसोलेशन में हैं। भोपाल में संदिग्ध और संक्रमित मिलाकर 15 मरीज भ्ार्ती हैं। हेल्थ बुलेटिन के अनुसार सोमवार को मिले 108 कोरोना पाजिटिव में से 64 को दोनों और चार को सिर्फ एक टीका लगा था बाकी का टीकाकरण नहीं हुआ था।

संक्रमण दर बढ़ने के बाद भी आठ जिलों में सैंपल नहीं

प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही कई जिलों में संक्रमण दर भी तेजी से बढ़ी है। इसके बाद भी कई जिलों मेें लापरवाही सामने आ रही है। सोमवार को प्रदेश के आठ जिलों में एक भी सैंपल की जांच नहीं हुई। इसमें उमरिया, श्योपुर, रीवा, सिवनी, निवाड़ी, मंदसौर, भिंड, अनूपपुर और अलीराजपुर शामिल हैं। भोपाल में हर दिन 300 से ज्यादा सैंपलों की जांच की जा रही थी, लेकिन सोमवार को सिर्फ 47 सैंपलों की जांच ही गई। इनमें छह पाजिटिव आए। कम सैंपल की वजह से ही संक्रमितों की संख्या भोपाल में कम रही।

वर्जन

मौसम में बदलाव की वजह से ही प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ी है। आर्द्रता कम होने के बाद मरीज घटने लगेंगे। जैसे ही मरीजों की संख्या कम होती है लोग लापरवाही शुरू कर देते हैं। इस कारण मरीज बढ़ने लगते हैं।

डा. वीणा सिन्हा अपर संचालक, स्वास्थ्य संचालनालय

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close