भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश में शासकीय शिक्षकों के लिए स्थानांतरण प्रक्रिया जारी है। इसके लिए 30 सितंबर से सात अक्टूबर तक आवेदन होंगे। अभी तक नवनियुक्त शिक्षकों के लिए आवेदन करने के आदेश नहीं थे, लेकिन अब वे भी मनचाहे स्कूल में स्थानांतरण ले सकेंगे। पहली बार ऐसा हुआ है कि परीवीक्षा अवधि में नवनियुक्त शिक्षकों को स्थानांतरण के लिए आवेदन करने का आदेश जारी किया गया है। स्कूल शिक्षा राज्‍यमंत्री इंदर सिंह परमार ने आदेश जारी कर वर्ष 2021 और 2022 में नियुक्त उच्च माध्यमिक एवं माध्यमिक शिक्षकों को परीवीक्षा अवधि में स्थानांतरण नीति 2022 के तहत सत्र 2022-2023 के लिए स्थानांतरण प्रक्रिया में शामिल किए जाने के लिए शिथिलता प्रदान किए जाने के निर्देश दिए हैं।

ऐसे नवनियुक्त शिक्षकों के स्थानांतरण के लिए प्रविधान तय किए गए हैं। इसके तहत स्थानांतरण नीति 2022 के नियमों के आधार पर वरीयता प्रदान करते हुए स्थानांतरण किया जा सकेगा। नवनियुक्त शिक्षकों को आपस में परस्पर स्थानांतरण की पात्रता होगी, लेकिन पहले से कार्यरत शिक्षकों के साथ परस्पर स्थानांतरण नहीं होगा। स्थानांतरण के नव नियुक्त शिक्षकों की परस्पर वरीयता उनकी शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) रैंक के आधार पर निर्धारित होगी। इस संबंध में आदेश आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा जारी किए गए हैं।

बता दें, कि 2018 में आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा के तहत 18 हजार उच्च माध्यमिक व माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्ति की गई है। हालांकि, शिक्षक संगठनों ने इस आदेश को लेकर आपत्ति जताई है। उनका कहना है कि परीवीक्षा अवधि में अभी तक नवनियुक्त शिक्षकों का स्थानांतरण नहीं किया गया है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूल और भी खाली हो जाएंगे।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close