भोपाल (राज्य ब्यूरो)। सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर दिग्विजय सिंह के बयान पर मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का डीएनए ही पाकिस्तान परस्त है। वे सर्जिकल स्ट्राइक, श्रीराम के अस्तित्व और रामसेतु के सबूत मांगते हैं। राहुल गांधी की यात्रा में इस तरह का बयान कांग्रेस के एजेंडे को बताता है। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि यात्रा में राहुल गांधी के साथ चल रहे दिग्विजय सिंह सेना का मनोबल गिराने का पाप कर रहे हैं। यह दिखा रहे हैं कि पाकिस्तान के साथ वह खड़े हैं। उन्होंने कहा कि मैं राहुल गांधी से जबाव मांगता हूं कि यह कैसी भारत जोड़ो यात्रा है। जिसमें टुकड़े-टुकड़े गैंग आपके साथ है।

कांग्रेस का वचन पत्र ढोंग

शिवराज ने कांग्रेस पार्टी द्वारा अनुसूचित जनजाति वर्ग के प्रतिनिधियों की बैठक करने पर भी टिप्पणी की। कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ बताएं कि पहले जो वचन दिया, उसका क्या किया। पेसा एक्ट क्यों लागू नहीं किया? क्या आपको आदिवासियों के बारे में बात करने का हक है? उन्होंने कहा कि 15 महीने की सरकार में बैगा, भारिया और सहरिया जनजाति वर्ग की महिलाओं को दी जाने वाली एक हजार रुपये की राशि भी आपने बंद कर दी। ऐसा क्यों किया? प्रदेश में 50 प्रतिशत आदिवासी ब्लाक बनाने को कहा था, कौन-सी पहल की। कहा था कि जिला स्तरीय आदिमजाति मंत्रणा समिति बनाएंगे, फिर सवा साल में क्यों नहीं बनाई। यह भी कहा था कि विभिन्न सरकारी योजनाओं में जो बड़े काम होंगे, उनका नाम आदिवासी महापुरुषों के नाम पर रखा जाएगा। कमल नाथ जी आप सिर्फ वचन पत्र में लिखने का ढोंग करते हैं, हमने रानी कमलापति के नाम पर स्टेशन का नामकरण किया, आदिवासी योद्धा टंट्या मामा, भीमा नायक, रघुनाथ शाह-शंकर शाह के स्मारक बनाए, मेडिकल कालेज छिंदवाड़ा का नाम रखा। ऐसे अनेक काम किए हैं।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close