MP News : भोपाल,नवदुनिया प्रतिनिधि। शहर की नगर निगम सीमा और सीआरपीएफ ग्रुप केंद्र की निगरानी में बसे गांव बंगरसिया के ग्रामीणों में भारी आक्रोश व्याप्त हैं। उनका कहना है कि सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने जो बयान दिया है वह निंदनीय है, उन्हें माफी मांगनी चाहिए। इसको लेकर वह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज्ञापन सौंपने की बात कर रहे हैं। तो वहीं कांग्रेस ने सांसद पर निशाना साधते हुए कहा कि वह इसका खुलासा करें कि आखिर बेटियां कहां बेची जा रही हैं। दरअसल सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने एक कार्यक्रम में बयान दिया था कि उनके गोद लिए गांव और बस्ती में कच्ची शराब बनती है और पुलिस को रिश्वत देने के लिए लोग अपनी बेटियों तक बेच देते हैं।

उनको नहीं पता तो विधायक से पूछ लेती

सांसद के बयान के बाद गुरुवार को बंगरसिया के रहवासियों ने गांव में जमकर विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने बताया कि सांसद ने गांव गोद भले लिया था, लेकिन वह यहां कभी नहीं आईं। उन्हें गांव के बारे में कुछ पता नहीं

हैं तो वह विधायक रामेश्वर शर्मा से पूछ लेती हैं। वह तो अक्सर गांव में आते रहते हैं, हर कार्यक्रम में शामिल होते हैं। उनके बयान से गांव की बदनामी हो रही हैं। बच्चियों को लेकर गलत संदेश जा रहा है। जनपद पंचायत

फंदा के वार्ड 11 के सदस्य ओमप्रकाश राय ने कहा कि बंगरसिया में सभी वर्ग के लोग रहते हैं। सांसद के बयान से गांव की छवि खराब हुई हैं, उन्हें ग्रामीणों से माफी मांगना चाहिए। वह आज तक गांव में आईं नहीं और कुछ भी

बोल रही हैं। इधर प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष संगीता शर्मा ने कहा कि सांसद माफी मांगे या बताएं कि बेटियां कहां बेची जा रही हैं। जिस गोद लिए गांव में वह आज तक नहीं गईं उसकी बदनामी क्यों कर रही हैं। उन्होंने

सार्वजनिक मंच से इस तरह के बयान देने पर सांसद पर कानूनी कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में गुरुवार को सांसद प्रज्ञा सिंह से बात करनी चाही तो उनके प्रतिनिधि ने उनका स्वास्थ्य खराब होने का हवाला दिया। उनका

कहना था कि वह अभी अस्वस्थ्य है न ही वह बात कर पाएंगी और न ही मिल पाएंगी।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close