भोपाल (राज्य ब्यूरो)! पंच, सरपंच, जनपद और जिला पंचायत सदस्य पद के लिए आरक्षण की प्रक्रिया पूरी होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने त्रिस्तरीय (ग्राम, जनपद और जिला) पंचायत के चुनाव का एलान कर दिया। चुनाव तीन चरण में होंगे। इसकी अधिसूचना जिलों में तीस मई को एक साथ जारी होगी। इसके साथ ही नामांकन पत्र भरने का सिलसिला प्रारंभ हो जाएगा, जो छह जून तक चलेगा। मतदान 25 जून, एक और सात जुलाई को होगा। मतदान केंद्र पर मतदान के ठीक बाद मतगणना होगी। जबकि, विकासखंड मुख्यालय पर मतों की गणना 28 जून, चार और 11 जुलाई को होगी। परिणामों की घोषणा 14 और 15 जुलाई को की जाएगी।

राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने शुक्रवार को राज्य निर्वाचन आयोग में आयोजित पत्रकारवार्ता में चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में आदर्श आचरण संहिता प्रभावी हो गई। उन्होंने बताया कि सामान्यत: चुनाव मानसून सीजन में नहीं कराए जाते हैं लेकिन अब पहुंचविहीन ग्रामों की संख्या न के बराबर रह गई हैं। सुप्रीम कोर्ट ने एक जुलाई तक पंचायत और नगरीय निकायों के चुनाव कार्यक्रम घोषित करने के आदेश दिए थे। इसके अनुपालन में कार्यक्रम घोषित किया जा रहा है। पंचायतों के आरक्षण की प्रक्रिया 25 मई को पूरी हो गई है। मतदान मतपत्र के माध्यम से होगा। मतदान दल और मतगणना दल का गठन कामन इलेक्शन मैनेजमेंट सिस्टम साफ्टवेयर के माध्यम से किया जाएगा। मतदान केंद्र, स्ट्रांग रूम और मतगणना स्थल पर सुरक्षा के लिए पर्याप्त इंतजाम रहेंगे। सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट की नियुक्ति होगी और चुनाव संबंधी शिकायतों के निराकरण के लिए आयोग मुख्यालय में कंट्रोल रूम स्थापित किया है। प्रत्येक जिले में पर्यवेक्षक नियुक्त किए जा रहे हैं, जो चुनाव की पूरी व्यवस्था की निगरानी करेंगे। मतदान के लिए 23 पहचान पत्रों में से एक लेकर आना अनिवार्य रहेगा।

राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री बसंत प्रताप सिंह की प्रेस वार्ता https://t.co/3oKE4eccM1

— Jansampark MP (@JansamparkMP) May 27, 2022

एक घंटे घटाया मतदान का समय

राज्य निर्वाचन आयोग ने मतदान का समय एक घंटे कम कर दिया है। अब तीनों चरणों में मतदान सुबह सात से दोपहर तीन बजे तक होगा। इसके पहले यह समय सुबह सात से चार बजे तक था। राज्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि कोरोना महामारी की स्थिति को देखते हुए एक घंटे समय बढ़ाया गया था लेकिन अब स्थितियां सामान्य हैं, इसलिए पुरानी व्यवस्था लागू की गई है।

इन पदों के लिए होगा चुनाव

जिला पंचायत सदस्य- 875

जनपद पंचायत सदस्य- 6,771

सरपंच- 22,921

पंच- 3,63,726

मतदाता

कुल- 3,93,78,502

पुरुष मतदाता- 2,03,14,793

महिला मतदाता- 1,90,62,749

अन्य मतदाता- 960

मतदान केंद्र

71,643

मतदान कर्मी लगेंगे

- चार लाख 25 हजार

- 750 से अधिक मतदाता वाले 3,258 केंद्रों पर एक अतिरिक्त मतदानकर्मी रहेगा।

चरणवार चुनाव

चरण-जनपद पंचायत- ग्राम पंचायत- मतदान केंद्र- मतदाता

प्रथम- 115-8,702-27,049-1,49,23,165

द्वितीय-106-7,661-23,988-1,31,44,027

तृतीय-92-6,649-20,606-1,13,11,310

नोट- 91 पंचायतों का कार्यकाल अभी पूरा नहीं हुआ है, इसलिए इनका चुनाव फिलहाल नहीं होगा पर जनपद और जिला पंचायत सदस्य का कराया जाएगा।

कब क्या होगा

- 30 मई- सभी जिलों में कलेक्टर अधिसूचना जारी करेंगे और नामांकन पत्र जमा होना प्रारंभ होगा।

- छह जून- नामांकन जमा करने की अंतिम तिथि

- सात जून- नामांकन पत्रों की जांच

- 10 जून- नाम वापसी लेने की अंतिम तिथि

मतदान

प्रथम चरण- 25 जून

द्वितीय चरण- एक जुलाई

तृतीय चरण- आठ जुलाई

मतदान केंद्रों पर मतगणना

प्रथम चरण- 25 जून

द्वितीय चरण- एक जुलाई

तृतीय चरण- आठ जुलाई

विकासखंड मुख्यालय पर मतगणना

प्रथम चरण- 28 जून

द्वितीय चरण- चार जुलाई

तृतीय चरण- 11 जुलाई

परिणामों की घोषणा

14 जुलाई- पंच, सरपंच, जनपद पंचायत सदस्य

15 जुलाई- जिला पंचायत सदस्य

किस पद के लिए किस रंग का रहेगा मतपत्र

पंच-सफेद

सरपंच-नीला

जनपद सदस्य- पीला

जिला पंचायत सदस्य- गुलाबी

नगरीय निकाय चुनाव की घोषणा भी जल्द

राज्य निर्वाचन आयुक्त ने संकेत दिए कि नगरीय निकायों के चुनाव की घोषणा भी जल्द हो जाएगी। मध्य प्रदेश नगर पालिक विधि संशोधन अध्यादेश 2022 प्राप्त हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने एक जुलाई तक चुनाव कार्यक्रम घोषित करने के निर्देश दिए हैं।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close