MP Police Constable Recruitment Exam भोपाल (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) द्वारा आयोजित की जाने वाली पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा का विज्ञापन जारी होने के बाद से एक के बाद एक विवाद सामने आ रहे हैं। इस बार इसमें शामिल होने के लिए चार साल से इंतजार कर रहे युवाओं को झटका लगा है। परीक्षा में शामिल होने के लिए अधिकतम उम्र सीमा 33 साल तय की गई है। प्रदेश में पुलिस भर्ती परीक्षा चार साल बाद हो रही है।

ऐसे में उम्र सीमा बढ़ाकर 37 साल नहीं की गई तो प्रदेश के करीब तीन लाख उम्मीदवार इस परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे। उम्मीदवारों ने सरकार से उम्र सीमा बढ़ाने की मांग की है। वे एक साल से कोशिश कर रहे हैं कि सरकार उम्र सीमा बढ़ाकर 37 साल कर दे। लेकिन सरकारी सूत्रों का कहना है कि फिलहाल उम्र सीमा बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

बेरोजगार छात्र संगठन के संयोजक सत्येंद्र कुरारिया का कहना है कि चार साल में करीब तीन लाख युवा उम्र सीमा (33 साल) पार कर गए हैं। सरकार की गलती का खामियाजा युवाओं को उठाना पड़ेगा। इस मामले में सरकार का पक्ष जानने के लिए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन उनका मोबाइल बंद मिला।

आरक्षण को लेकर भी है विवाद

सरकार ने अगले महीने होने वाले उपचुनाव में युवाओं को अपने पक्ष में करने के लिए आनन-फानन में पुलिस आरक्षक भर्ती का विज्ञापन तो जारी कर दिया, लेकिन हर दिन इसको लेकर विवाद सामने आ रहे हैं। सरकार ने इस भर्ती में ओबीसी (पिछड़ा) वर्ग को 27 फीसद आरक्षण दे दिया है, जबकि इस पर हाई कोर्ट ने रोक लगा रखी। 4 हजार पदों पर होनी है भर्ती

सरकार पीईबी के जरिये पुलिस आरक्षक के चार हजार पदों पर भर्ती करने जा रही है। इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया 24 दिसंबर से शुरू होगी। आवेदन करने की अंतिम तारीख सात जनवरी है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस