Madhya Pradesh News: भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। शासकीय व अशासकीय समस्त शिक्षक संवर्ग के हितों के लिए कार्य करने वाला संगठन मप्र शिक्षक संघ द्वारा कर्तव्यबोध दिवस अब इस माह की आखिरी तारीख तक मनाया जाएगा। शिक्षक संघ स्वामी विवेकानंद जयंती और सुभाषचंद्र बोस जयंती के उपलक्ष्य में 31 जनवरी तक कर्तव्यबोध दिवस मनाएगा। यह 15 दिन तक मनाया जाएगा।

इस संदर्भ में मप्र शिक्षक संघ के प्रांतीय महामंत्री क्षत्रवीर सिंह राठौर का कहना है कि संपूर्ण प्रदेश में अपनी आधार इकाई नगर, विकासखंड जिला संभाग से लेकर प्रदेश स्तर पर कर्तव्यबोध दिवस मनाने की योजना है। स्वामी विवेकानदं ने राष्ट्रीयता के भाव का जागरण प्रत्येक युवा में किया। उनका ज्ञान, उनका चिंतन प्रत्येक शिक्षक के लिए प्रेरणा बने और आज का शिक्षक केवल अपनी मांगों के लिए ना लड़ता रहे, बल्कि एक शिक्षित नागरिक होने के नाते यह भी सोचे कि हमारा भारतीय समाज शिक्षित, चरित्रवान, शाश्वत जीवन मूल्यों की रक्षा करने वाला और संस्कारित व्यक्ति कैसे तैयार हो, इसके लिए ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन करे। इसी भाव के साथ हमने 31 जनवरी तक कर्तव्‍यबोध दिवस मनाने की योजना बनाई है। स्‍वामी विवेकानंद की तरह ही नेताजी सुभाषचंद्र बोस भी देश के करोड़ों युवाओं के प्रेरणास्रोत हैं। उन्होंने कहा कि हमारा संगठन निरंतर स्‍वामी विवेकानंद और सुभाषचंद्र बोस जैसे महापुरुषों के शिक्षाप्रद एवं प्रेरणादायी विचारों को छात्र-छात्राओं में निरंतर संजोने का प्रयास करेगा, ताकि हमारा भारत देश ज्ञान-विज्ञान का अखंड स्रोत बने। उन्‍होंने कहा कि शिक्षक संघ कर्तव्यबोध दिवस के माध्यम से समाज में सकारात्‍मक संदेश दे रहा है।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags