MP Vaccination Maha Abhiyan:भोपाल ( नवदुनिया प्रतिनिधि )। कोरोना टीककारण महाभियान के दौरान ही प्रदेश में टीका की कमी हो गई है। प्रचार-प्रसार और लोगों में जागरुकता आने की वजह से बड़ी संख्या में लोग टीका लगवाने के लिए पहुंच रहे हैं, लेकिन उन्हें निराश होकर लौटना पड़ रहा है। शनिवार को प्रदेश के सभी जिलों में ज्यादातर केंद्रों में ऐसी स्थिति बनी। लिहाजा अब निर्णय लिया गया है कि सोमवार को प्रदेश के सिर्फ 26 जिलों में ही टीकाकरण किया जाएगा। यह वह जिले हैं जहां अभी तक 25 से कम लोगों को ही टीका लग पाया है। ज्यादातर बड़े जिलों में 25 फीसद से ज्यादा लोगों को टीका लग चुका है, इसलिए इन जिलों में टीका नहीं लगाया जाएगा। इनमें भोपाल, इंदौर भी शामिल हैं। बता दें कि 21 जून से 30 जून के बीच पूरे प्रदेश में टीकाकरण का महाअभियान चलाया जा रहा है। इस बीच छह टीकाकरण दिवसों में 50 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। पहले दिन 11 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य था, लेकिन 16 लाख 73 हजार लोग टीका लगवाने के लिए पहुंचे। इसके बाद से लगतार टीकाकरण कम होता जा रहा है। अब तक अभियान के दौरान 45 लाख लोगों को टीका लगा है। पर्याप्त मात्रा में टीका उपलब्ध नहीं होने की वजह से टीकाकरण सत्र कम आयोजित किए जा रहे हैं। ज्यादा ध्यान ग्रामीण क्षेत्र में पहला और दूसरा डोज लगाने पर है। इसके बाद शहरी क्षेत्रों में दूसरा डोज लगाने पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया कि मौजूदा स्थिति में प्रदेश में टीका के सिर्फ चार लाख डोज बचे हैं। इसमें कोविशील्ड और कोवैक्सीन दोनों शामिल हैं।

जहां संक्रमण ज्यादा वहां पहले जरूरी था

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया जिन जिलों में कोरोना के ज्यादा मरीज मिले और संक्रमण दर भी ज्यादा रही है वहां पर शुरू में ज्यादा ध्यान था। इनमें भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन आदि जिले शामिल हैं। अब इन जिलों में टीकाकरण की स्थिति बेहतर हो चुकी है, लिहाजा सोमवार को 25 फीसद से कम टीकाकरण वाले जिलों में ही ज्यादातर टीका लगाया जाएगा। बाकी जिले वैक्सीन की उपलब्धता के अनुसार कुछ सत्र आयोजित कर सकते हैं।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local