भोपाल MP Vidhansabha Speaker । प्रदेश की पंद्रहवीं विधानसभा में विधायक रामेश्वर शर्मा को प्रोटेम स्पीकर (सामयिक अध्यक्ष) बनाया गया है। शर्मा भोपाल की हुजूर विधानसभा से दूसरी बार विधायक चुनकर आए हैं। वे मानसून सत्र में नए अध्यक्ष का चुनाव होने तक तक यह जिम्मेदारी संभालेंगे। अध्यक्ष का चुनाव मानसून सत्र के पहले दिन 16 जुलाई को दिवंगत विधायक मनोहर ऊंटवाल को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद उसी दिन या अगले दिन होने की संभावना है।

शिवराज सरकार का बहुमत साबित करने के लिए 24 मार्च को विधानसभा की बैठक में जगदीश देवड़ा प्रोटेम स्पीकर बनाए गए थे। दो जुलाई को मंत्रिमंडल विस्तार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शामिल करने के बाद देवड़ा का इस्तीफा हो गया। उसी दिन विधानसभा सचिवालय ने नए प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के लिए वरिष्ठ विधायकों की सूची राज्य शासन को भेज दी। मगर वरिष्ठ विधायकों की सहमति नहीं मिल पाने तथा उनकी भोपाल में उपलब्धता नहीं होने से नए नाम पर विचार किया गया।

तुरत-फुरत भोपाल के रामेश्वर शर्मा का नाम आगे बढ़ाया गया और उन्हें प्रोटेम स्पीकर बनाए जाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सहमति के बाद आदेश जारी किए गए।आरएसएस के प्रचारक से भाजपा में आएशर्मा आरएसएस के प्रचारक थे और 1993 में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

इसके बाद भोपाल नगर निगम में दो बार पार्षद रहे। उसी दौरान भोपाल नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी संभाली। 2003 में भोपाल उत्तर से विधानसभा का चुनाव लड़ा और फिर 2013 में हुजूर विधानसभा से पहली बार विधायक बने।

उसी कार्यकाल में वे मध्य प्रदेश खनिज निगम के अध्यक्ष भी रहे। 2018 में दूसरी बार विधायक बने और कमल नाथ सरकार के गिरने व शिवराज सरकार के काम संभालने पर उनके मंत्रिमंडल में शामिल होने की प्रबल संभावना थी। मगर राजनीतिक समायोजनों के चलते ऐसा नहीं हो पाया।

पहली बार तीसरा प्रोटेम स्पीकर

प्रदेश विधानसभा के इतिहास में पहली बार है कि किसी विधानसभा के पांच साल के कार्यकाल में तीसरा प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया गया है। इसके पहले सातवीं विधानसभा में दो प्रोटेम स्पीकर मथुरा प्रसाद दुबे और चित्रकांत जायसवाल, आठवीं विधानसभा में शिवभानु सिंह सोलंकी व प्यारेलाल कंवर, ग्यारहवीं विधानसभा में श्रीनिवास तिवारी और कृष्णपाल सिंह तथा तेरहवीं विधानसभा में जमुना देवी व ज्ञानसिंह के रूप में दो-दो प्रोटेम स्पीकर रह चुके हैं।

पंद्रहवीं विधानसभा में कमल नाथ सरकार ने चौथी बार के विधायक दीपक सक्सेना को प्रोटेम स्पीकर बनाया था, जिनका कार्यकाल सात दिन का रहा। कमल नाथ सरकार के इस्तीफे के बाद भाजपा के जगदीश देवड़ा ने प्रोटेम स्पीकर की जिम्मेदारी 100 दिन संभाली।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020