MP Weather News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। वेदर सिस्टम के रुखसत होने के साथ ही हवाओं का रुख बदलने लगा है। मौसम का मिजाज भी बदलने लगा है। आसमान साफ होने से धूप में चुभन बढ़ गई है। इससे अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी होने लगेगी। दिन में हवाओं का रुख पश्चिमी और उत्तर-पश्चिमी रहता है, लेकिन शाम ढलने के बाद उत्तरी हवा चल रही है। इस वजह से पिछले तीन दिनों से न्यूनतम तापमान में कमी दर्ज होने लगी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अभी दो दिन तक अधिकतम और न्यूनतम तापमान इसी तरह बने रहेंगे। इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ के असर से न्यूनतम तापमान में कुछ बढ़ोतरी होने लगेगी।

मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि हवाओं का रुख बदलने से जहां न्यूनतम तापमान में कमी दर्ज हो रही है, वहां वातावरण से तेजी से नमी कम होने से अधिकतम तापमान बढ़ने लगा है। गुरुवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 31.8 डिग्री सेल्‍सियस रिकार्ड किया गया, जो बुधवार को दर्ज अधिकतम तापमान 31 डिग्रीसे. की तुलना में 0.8 डिग्री सेल्‍सियस अधिक रहा। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में हवा का रुख उत्तरी, उत्तर-पश्चिमी हो रहा है। मौसम शुष्क बना रहने से अधिकतम तापमान बढ़ रहा है। साथ ही न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। शुक्ला के मुताबिक अभी दो दिन तक मौसम इसी तरह बना रहेगा। वर्तमान में अफगानिस्तान और उसके आसपास एक पश्चिमी विक्षोभ मौजूद है। यह सिस्टम 23-24 अक्टूबर को उत्तर भारत में दाखिल होगा। काफी अधिक तीव्रता वाले इस सिस्टम के असर से उत्तर भारत के पहाड़ों में बारिश के साथ ही बर्फबारी होने की संभावना है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local