MP Weather News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-काश्मीर और उसके आसपास सक्रिय है। पाकिस्तान के मध्य में एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से जहां उत्तर भारत के पहाड़ों पर बर्फबारी शुरू हो गई है, वहीं पंजाब और राजस्थान में बारिश होने की संभावना बढ़ गई है। पाकिस्तान पर बने सिस्टम के कारण हवाओं का रुख बदल गया है। पश्चिमी, दक्षिण-पश्चिमी हवाएं चलने के कारण मध्यप्रदेश में आंशिक बादल छाने लगे हैं। इससे दिन के तापमान में तो गिरावट हो रही है, लेकिन रात के तापमान में मामूली बढ़ोतरी दर्ज होने लगी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक दो दिन बाद हवाओं का रुख बदलकर उत्तरी होने की संभावना है। इसके बाद बर्फीली हवाएं वातावरण में सिहरन पैदा करेंगी।

मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक शनिवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 29.7 डिग्रीसे. दर्ज किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री सेल्‍सियस कम रहा। साथ ही शुक्रवार के अधिकतम तापमान (32.8 डिग्री से.) की तुलना में 3.1 डिग्रीसे. कम रहा। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि पाकिस्तान के मध्य में बने प्रेरित चक्रवात के कारण हवाओं का रुख बदल गया है। वर्तमान में हवाओं का रुख दक्षिणी और पश्चिमी हो गया है। वातावरण में कुछ नमी आने के कारण आंशिक बादल छाने लगे हैं। इससे दिन के तापमान में गिरावट होने लगी है। शुक्ला के मुताबिक अभी दो दिन तक दिन के तापमान में कुछ कमी और रात के तापमान में मामूली बढ़ोतरी होने के आसार हैं। शुक्ला के मुताबिक सोमवार को पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत से आगे बढ़ जाएगा। इससे मंगलवार से हवाओं का रुख बदलकर फिर उत्तरी होने लगेगा। इससे रात के तापमान में फिर गिरावट का सिलसिला शुरू होगा।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local