MP Weather news: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। दो-तीन दिन से गर्मी और उमस महसूस कर रहे लोगों के लिए राहत भरी खबर है। राजधानी भोपाल सहित आसपास के जिलों में शुक्रवार को तेज बौछारें पड़ने की संभावना है। दरअसल गुरुवार को छत्तीसगढ़ के दक्षिणी क्षेत्र में हवा के ऊपरी भाग में बना चक्रवात वर्तमान में मध्यप्रदेश के मध्य भाग में सक्रिय हो गया है। मानसून ट्रफ भी टीकमगढ़ से होकर गुजर रहा है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक आज भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, सागर संभागों के जिलों में तेज बौछारें पड़ने के आसार हैं। ग्वालियर एवं जबलपुर संभागों के जिलों में भी छिटपुट बारिश हो सकती है।

मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान शुक्रवार सुबह साढ़े आठ बजे तक इंदौर में 51.2, मलाजखंड में 17.2, सागर में 11.4, बैतूल में 11, छिंदवाड़ा में 9.2, शाजापुर में नौ, उमरिया में 4.2, धार में 4.1, पचमढ़ी में चार, टीकमगढ़ में एक, मंडला में 0.6, होशंगाबाद में 0.5 मिलीमीटर बारिश हुई। राजधानी में बारिश का दौर थमा रहने से चार दिन से अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस से ऊपर बना हुआ है। गुरुवार को अधिकतम तापमान 32.7 डिग्री सेल्‍सियस रिकार्ड हुआ, जो सामान्य से एक डिग्री अधिक था। वातावरण में नमी रहने और धूप निकलने के कारण उमस बेचैन करने लगी है।

बंगाल की खाड़ी में बना एक और सिस्टम

मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में मध्य प्रदेश के मध्य भाग पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात बना हुआ है। मानसून ट्रफ जैसलमेर, चित्तौड़गढ़, टीकमगढ़, सीधी, अंबिकापुर, झारसुगड़ा, और पुरी से होकर बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान और उससे लगे गुजरात पर भी हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात बना हुआ है। इसके अतिरिक्त बंगाल की खाड़ी में एक और कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। इस सिस्टम के 26 सितंबर को ओडिशा कोस्‍ट पहुंचने के आसार हैं। इन चार वेदर सिस्टम के सक्रिय रहने से मप्र के कई जिलों में रुक-रुककर बारिश होने के आसार बने हुए हैं।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local