-सामूहिक विवाह सम्मेलन में रविवार को 24 गरीब कन्याओं के होंगे पीले हाथ

भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

पर्यावरण संरक्षण के लिए शहर के सक्रिय नागरिक लगातार जन सरोकारों की मुहिम चला रहे हैं। अब यह मुहिम शादी समारोह में भी दिखने लगी है। यहां भी दूल्हा-दुल्हन, उनके परिजन व बराती भी पर्यावरण संरक्षण का संदेश दे रहे हैं। 16 जनू को गुफा मंदिर परिसर में आयोजित सर्व समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में 24 गरीब कन्याओं के शुभ-विवाह होंगे। पर्यावरण व जल संरक्षण का संदेश देने के उद्देश्य से सभी कन्याओं को तुलसी और वर को फलदार पौधे भेंट में किए जाएंगे। ये पौधे वर-वधु अपने घरों के पास रोपेंगे। साथ ही सभी वर-वधु पर्यावरण की सुरक्षा व जल संरक्षण का संकल्प भी लेंगे।

श्री भगवत्‌ सेवा जन समिति के अध्यक्ष श्रीश्री 1008 महंत चंद्रमादास त्यागी महाराज ने बताया कि समिति द्वारा पिछले नौ वर्षों से सामूहिक विवाह सम्मेलन किए जा रहे हैं। इन सभी सम्मेलनों में सामाजिक व जनसरोकारों का संदेश दिया गया। इस वर्ष आयोजित 10वें सामूहिक सम्मेलन में पर्यावरण और जल संरक्षण का संदेश दिया जाएगा। गरीब कन्याओं को अभाव महसूस न हो, इसलिए इस वर्ष भव्य तरीके से विवाह सम्मेलन किया जा रहा है। अधिक से अधिक सुविधाएं जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। सनातन रीति-रिवाज के अनुसार सभी जोड़ों का विवाह होगा। समिति व विभिन्न समाजसेवियों द्वारा नवयुगल दंपत्तियों को विदाई पर उपहार स्वरूप घर-गृहस्थी का सामान दिया जाएगा। साथ ही दूल्हा और दुल्हन को चांदी की थाली में खाना खिलाया जाएगा। यह जानकारी देते समय मुख्य रूप से रवि गगरानी, दीपक लालचंदानी, दीपक पसारी, प्रमोद नेमा, विष्णु बंसल, विशाल अग्रवाल, गणेश राठौर मौजूद थे।

गाजे-बाजे के साथ निकलेगी बरात

समिति द्वारा लालघाटी से गाजे-बाजे के साथ बरात निकाली जाएगी। बरात में सभी दूल्हे घोड़े की सवारी करते हुए चलेंगे। वहीं बराती भी साफा बांधे हुए भव्य पोशाक में नजर आएंगे। बरात कार्यक्रम स्थल गुफा मंदिर पहुंचेगी। इसके बाद विवाह संस्कार शुरू होंगे। आयोजन को लेकर तैयारियां अंतिम दौर में चल रही हैं। कार्यक्रम व्यवस्थित तरीके से हो, इसके लिए लोगों को अलग-अलग जिम्मेदारी सौंपी गई है।