Navratri 2021: संत हिरदाराम नगर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। शारदीय नवरात्र के अंतिम चरण में नवमी पर बैरागढ़ में दुर्गा प्रतिमा स्थलों पर पूजन एवं भंडारे के बाद विसर्जन जुलूस का सिलसिला शुरू हुआ। शुक्रवार सुबह 6:00 बजे तक प्रतिमाओं का विसर्जन होता रहा। घाट पर पूरी रात मेले सा माहौल नज़र आया।

जिला प्रशासन ने इस बार विसर्जन चल समारोह पर रोक लगा दी थी। इस कारण अधिकांश झांकी समितियों ने अलग-अलग जुलूस निकाला ओर घाट तक पहुंचे। प्रशासन ने डीजे एवं ढोल पर भी रोक लगाई थी लेकिन माता भक्त ढोल पर थिरकना नहीं भूले। भक्तों ने ढोल के साथ गाते हुए जुलूस निकाले और घाट पर पहुंचकर प्रतिमा का विसर्जन किया।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम बैरिकेड लगाए थे

नगर निगम एवं जिला प्रशासन ने सीहोर नाका स्थित झूलेलाल विसर्जन घाट पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए थे। इस बार सीडियों के पास ही बैरिकेड लगा दिए गए थे ताकि कोई भी झांकी समिति का सदस्य घाट के अंदर तक ना जा सके। नगर निगम कर्मचारी प्रतिमा लेकर उनका विसर्जन कर रहे थे। बड़ी प्रतिमाओं का विसर्जन क्रेन की मदद से किया गया। विभिन्न मार्गों पर देर रात तक जुलूस घूमते रहे। भक्तों ने सुबह 6:00 बजे तक प्रतिमाओं का विसर्जन किया आज शाम को भी कुछ प्रतिमाएं विसर्जित होगी। एसडीओपी अंतिमा समाधिया एवं थाना प्रभारी बृजेश शर्मा ने काफी समय तक घाट पर रहकर व्यवस्थाओं का अवलोकन किया नगर निगम कर्मचारी भी झांकी समितियों की मदद करते नजर आए पूज्य सिंधी पंचायत के महासचिव मधु चांदवानी महेश खटवानी, पूर्व पार्षद अशोक मारण एवं कांग्रेस, भाजपा के नेता भी घाट पर नजर आए।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close