भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। इंदौर एवं उज्जैन से राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) द्वारा गिरफ्तार पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (पीएफआइ) के मध्य प्रदेश के मुखिया सहित चार आरोपितों को लेकर शुक्रवार सुबह एटीएस की टीम भोपाल पहुंची थी। आरोपितों को मेडिकल परीक्षण कराने के बाद सुबह 11 बजे विशेष न्यायाधीश रघुवीर प्रसाद पटेल की अदालत में कड़ी सुरक्षा के बीच पेश किया गया। यह प्रदेश की एनआइए/एटीएस की विशेष कोर्ट है। बिजली गुल रहने के कारण सुनवाई करीब एक घंटे तक रुकी रही। जांच एजेंसी के तर्क सुनने के बाद दोपहर 12:15 बजे अदालत ने आरोपितों को सात दिन के पुलिस रिमांड पर एनआइए को सौंप दिया।

पीएफआइ के आतंकी नेटवर्क पर जांच एजेंसियों ने बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात को देश के विभिन्न राज्‍यों में ताबड़तोड़ छापामार कार्रवाई की थी। यह धरपकड़ टेरर फंडिंग और आतंकी प्रशिक्षण शिविर लगाने के आरोप में की गई थी। इसी क्रम में इंदौर के जूना रिसाला से पीएफआइ के मध्य प्रदेश के मुखिया अब्दुल करीम बेकरी उर्फ बेकरीवाला, छीपा बाखल से मोहम्मद जावेद एवं जूना रिसाला निवासी अब्दुल खालिद को गिरफ्तार किया गया। उधर उज्जैन से जमील शेख की गिरफ्तारी की गई। उनके पास से बड़े पैमाने में पुस्तकें, पर्चे, कम्प्यूटर एवं प्रचार सामग्री बरामद की गई। चारों आरोपितों को एटीएस की टीम शुक्रवार सुबह साथ लेकर जेपी अस्पताल पहुंची। वहां उनका मेडिकल परीक्षण कराया गया। इसके बाद सुबह करीब 11 बजे चारों आरोपितों को पुख्ता सुरक्षा के बीच राजधानी में बनी एनआइए/एटीएस की विशेष अदालत में विशेष न्यायाधीश रघुवीर प्रसाद की कोर्ट में पेश किया गया। अदालत में सुबह से ही बिजली गुल रहने से लगभग एक घंटे तक सुनवाई नहीं हो सकी। दोपहर 12:15 बजे जांच एजेंसी के जांच अधिकारी की दलील सुनने के बाद अदालत ने आरोपितों को 30 सितंबर तक के लिए पुलिस रिमांड पर सौंप दिया।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close