भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)एक के बाद एक आ रहे पश्चिमी विक्षोभ के के कारण उत्तर भारत के पहाड़ों पर जबरदस्त बर्फबारी हुई है। गुरुवार शाम से हवा का रुख पूर्वी, उत्तर-पूर्वी हो गया है। उत्तर भारत से आ रही सर्द हवाओं से प्रदेश के कई स्थानों पर दिन और रात के तापमान में गिरावट दर्ज होने लगी है। मौसम विज्ञानियों ने शनिवार को पश्चिमी विक्षोभ के जम्मू-कश्मीर से आगे बढ़ जाने की संभावना जताई है। इसके बाद हवा का रुख उत्तरी होने के आसार हैं। इससे दो दिन में कहीं-कहीं रात के तापमान में चार से पांच डिग्री तक की गिरावट हो सकती है। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि पश्चिमी मप्र पर बना ऊपरी हवा का चक्रवात उत्तरी महाराष्ट्र की तरफ खिसक गया है।

एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) दक्षिण-पूर्वी मप्र से बिहार तक बनी हुई है। इन दो सिस्टम के कारण पूर्वी मप्र में बारिश हो रही है। शनिवार को भी पूर्वी मप्र में बरसात होने की संभावना है,लेकिन प्रदेश के शेष हिस्से में मौसम शुष्क बना रहने के कारण तापमान में गिरावट होने लगी है। वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर पर बना हुआ है। इस सिस्टम के शनिवार को आगे बढ़ने की संभावना है। इसके बाद हवा का रुख उत्तरी होने के आसार हैं। उत्तर भारत से आने वाली बर्फीली हवाओं से प्रदेश में दो दिन में ठंड के तेवर काफी तीखे हो सकते हैं।

फिर बदलेगा मौसम का मिजाज

अजय शुक्ला के मुताबिक 22 नवंबर को एक और पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दस्तक देने वाला है। इसके बाद 23-24 नवंबर से मौसम का मिजाज एक बार फिर बदलेगा। हवाओं का रुख बदलने से बादल छाने लगेंगे। रात के तापमान में फिर बढ़ोतरी दर्ज होने लगेगी।

Posted By: Lalit Katariya

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस