Nisarga Cyclone in Madhya Pradesh : भोपाल। नईदुनिया प्रतिनिधि। निसर्ग तूफान के असर से प्रदेश के अ;घिळर्-ऊि्‌झ।कांश हिस्से तरबतर हो गए हैं। इस दौरान कुछ स्थानों पर भारी बरसात भी हुई। बु;घळर्-ऊि्‌झ।वार से शुरू हुआ बौछारें पड़ने का सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा।

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक निसर्ग वर्तमान में अवदाब का क्षेत्र बन चुका है। यह मप्र के पूर्वी क्षेत्र की तरफ बढ़ रहा है। इसके प्रभाव से रीवा, शहडोल, सागर और जबलपुर संभाग के जिलों में अच्छी बरसात होने के आसार हैं। इस दौरान कहीं-कहीं भारी बरसात भी हो सकती है।

मौसम विज्ञान केंद्र के प्रवक्ता के मुताबिक निसर्ग तूफान के असर से बुधवार को शुरू हुआ बरसात का सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा। इस दौरान गुरुवार सुबह तक खंडवा में 132, सेंधवा में 104, निवाली में 102, महेश्वर में 99, बड़वानी में 97, आष्टा में 80, खरगोन में 66.5, मंडला में 64.6, नेपानगर में 62, शुजालपुर में 58, जावर में 57, महू में 55.9, इंदौर में 51.7, बुरहानपुर और खकनार में 50, होशंगाबाद में 40, नरसिंहपुर में 39, भोपाल में 23.2 मिमी. बरसात दर्ज की गई।

बरसात का दौर गुरुवार को भी दिन भर चला। इस दौरान सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक दमोह में 50, सागर में 49, रायसेन में 46, भोपाल में 27, होशंगाबाद में 26, शाजापुर में 23, रीवा में 22, इंदौर में 3.8 मिमी. बरसात हुई।

वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि अरब सागर से आगे बढ़ा सिस्टम वर्तमान में अवदाब के रूप में प्रदेश में पूर्वी दिशा की तरफ आगे बढ़ रहा है। इसके कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होने की संभावना है। इस सिस्टम के असर से शुक्रवार को रीवा, सागर, शहहोल, जबलपुर के अलावा भोपाल संभाग के कुछ हिस्से में अच्छी बरसात होने की संभावना है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस