भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना से संक्रमित पाए जाने के बाद मरीजों को फीवर क्लीनिक से ही होम आइसोलेशन किट दी जाएगी। इसमें दवाएं, संपर्क के लिए नंबर और जरूरत की अन्य जानकारी रहेगी। स्वास्थ्य आयुक्त ने सभी जिलों को निर्देश जारी कर कहा है कि जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या के मान से 60 फीसद किट पहले से तैयार रखी जाएं। इस किट में एक एंटीबायोटिक, एजर्ली की दवा, मल्टी विटामिन, जिंक, विटामिन सी, बुखार की दवा, जिले के कोविड अस्पतालों की सूची और फोन नंबर उपलब्ध कराए जाएंगे। बता दें कि पिछले साल भी शासन ने यह किट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। मरीजों को किट दी जा रही थी। बाद में मरीज कम होने लगे तो कुछ जिलों में किट देना बंद कर दिया गया था। आदेश में यह भी कहा गया है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति को अपनी निगरानी के लिए थर्मामीटर और पल्स ऑक्सीमीटर की व्यवस्था करनी होगी।

इन्हें मिलेगी होम आइसोलेशन की अनुमति

- बिना लक्षण या मामूली लक्षण वाले लोग।

- 60 साल से कम उम्र के लोग।

- 60 साल से ऊपर के ऐसे लोग, जिन्हें पहले से कोई बीमारी नहीं है।

- संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए सभी लोग।

-बीपी, डायबिटीजी और अन्य बीमारियों से पीड़ित ऐसे लोग जिन्हें इन बीमारियों के वजह से ज्यादा दिक्कत नहीं है, वे डॉक्टर की सलाह पर होम आइसोलेशन में रह सकेंगे।

इन्हें होगी होम आइसोलेशन की पात्रता

- कम से कम एमबीबीएस डिग्रीधारी डॉक्टर द्वारा मरीज की स्थिति को देखकर होम आइसोलेशन की अनुमति दी जाएगी।

-देखभाल के लिए घर में कम से कम एक वयस्क व्यक्ति उपलब्ध हो।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags