भोपाल। Pragya Singh Thakur साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को धमकी भरा पत्र किसी अंसार उल मुसलमीन नाम के शख्स ने भेजा है। पत्र में इसी व्यक्ति ने सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को जान से मारने की धमकी दी थी। पत्र में साध्वी प्रज्ञा को मारने के साथ ही पुलवामा और 2008 के मुंबई जैसे हमले दोहराने की भी धमकी दी गई है। पत्र की शुरुआत में ही लिखा है कि हम कहां से हैं, क्या करते हैं, हमारे बारे में किसी को पता नहीं चलेगा। पत्र में लिखा है कि अंसार उल मुसलमीन के साथ इस काम के लिए नईम अंसारी, तैयबा अंसारी, विलायत हुसैन, सैयद शर्फ व अन्य भी शामिल हो गए हैं। पत्र में लिखा है कि हम हिंदुस्तान की पुलिस से नहीं डरते। फारुक भाई का नाम लेकर बताया गया कि उनकी पहुंच सीरिया, दुबई और पाकिस्तान तक है। हमारे साथ रहमान सिद्दकी, शकील अहमद हैं। पाकिस्तान से यह हुक्म हुआ है।

हेमंत करकरे और महात्मा गांधी को बताया देश भक्त

पत्र में कहा गया है कि साध्वी प्रज्ञा ने हेमंत करकरे और महात्मा गांधी जैसे देशभक्त का अपमान किया है। पत्र में अंसार उल मुसलमीन की ओर से कहा गया है कि इस काम के लिए मुझे मां का हुक्म मिला है और उन्हीं की वजह से मैं नेक रास्ते पर हूं। इधर, पुलिस ने सांसद की सुरक्षा में इजाफा कर दिया है। उनके घर आने जाने वाले हर व्यक्ति की रजिस्टर में एंट्री की जा रही है। एएसपी अखिल पटेल ने बताया कि पत्र और पाउडर को जांच के लिए सागर स्थित फोरेंसिक लैब भेजा गया है। गौरतलब है कि भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को जान से मारने की धमकी वाला पत्र और रासायनिक पदार्थ पुणे से भेजा गया है। यह पत्र उर्दू भाषा में लिखा गया है।

पत्र जहां से आया वहां टीम भेजी जाएगी

एक टीम उस स्थान पर भेजी जा रही है, जहां से पत्र आया है। उसके बारे में पूरी जानकारी जुटाने के लिए कमला नगर और टीटीनगर के चुनिंदा पुलिस कर्मियों की एक टीम बना दी गई है जिसे इस मामले का जिम्मा सौंपा गया है। टीम जानकारी जुटाएगी कि आखिरकार यह पत्र किसने भेजा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket